Featured Posts

पॉपुलर पोस्ट,

आधार कार्ड  में सुधार /correction/Update  करें Online

आधार कार्ड में सुधार /correction/Update करें Online

क्या आपके आधार कार्ड में कोई mistake है, जैसे की नाम, जन्म तिथि, पता, लिंग। आधार कार्ड के mistake को सही/सुधर करने के लिए आप ऑनलाइन करेक्शन कर सकते है।  इस पोस्ट में आपको यही बताऊंगा की आधार कार्ड की गलतियों को कैसे ठीक किया जा सकता है।
आधार कार्ड  में सुधार /correction/Update  करें Online

आधार कार्ड में गलतियों के वजह से आपको बहुत परेशान होना परता है। और आपका काम सही समय में पूरा नहीं होता है।  कई बार तो मेरे साथ खुद हुआ है की अपने परिवार के साथ बैंक से पैसे निकलवाने गया तो आधार कार्ड के नाम में मीस्टके से पैसे नहीं मिले।

आधार कार्ड बहुत ही important document  बन चूका है और हमारे बहुत से काम आधार कार्ड से ही होते है। जैसे बैंक में खाता खुलवाना हो, पैन कार्ड बनवाना हो, गैस सिलिंडर, नई मोबाइल कनेक्शन लेना हो, वगैरह वगैरह  आधार कार्ड में सुधर/correction  करने के लिए कोई जयदा परेशां भी नहीं होना पड़ता है। आज के दिन लगभग सभी काम ऑनलाइन हो जाते है।


आधार कार्ड  में सुधार /correction/Update  करें Online 

आधार कार्ड में ऑनलाइन बदलाव करने के लिए आपको कुछ बाते का पता होना जरुरी है और कोई एक डॉक्यूमेंट का scan कॉपी होना भी जरुरी है। 
  • सबसे पहले आपको पता होना चाहिए की आपका आधार कार्ड किस मोबाइल नंबर पर रजिस्टर है। यदि वो नंबर आपके पास नहीं है तो आपके आधार में ऑनलाइन कोई बदलाव नहीं कर पाएंगे।  
  • यदि आपके पास रजिस्टर मोबाइल नंबर नहीं है या खो-गया है तो आप अपने नजदीकी आधार सेंटर पर जाकर वह से  करवा सकते है। कैसे पता करे Nearest Aadhar Center Online कैसे ढूंढे इस पोस्ट को पढ़े। 
ऑनलाइन सुधर करने के लिए कोई एक डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी होना जरुरी है। 
  • Address proof
  • voter card
  • driving license
  • ration card
  • electricity/telephone bill
  • passport
  • bank passbook
  • government issue identity card/certificate 
इसमें से कोई एक डॉक्यूमेंट होगा तो आपका काम हो जायेगा। और जिस डॉक्यूमेंट को आपने देना है उसकी scan copy रहना जरुरी है। 

आजकल स्मार्टफोन के लिए भी बहुत सी scan करनी वाले application मिल जाते है। आप उसकी मदद से अपने मोबाइल से ही scan कॉपी कर सकते है। 

अब देखते है क्या क्या करना होता है आधार कार्ड  में सुधार /correction/Update करने के लिए

Important नोट:- ध्यान रहे की जिस डॉक्यूमेंट को आप upload कर रहे है। उसमे आपका नाम, पता, जन्म तिथि सब सही होना जरुरी है।

Step1- सबसे पहले आपके आधार की officially वेबसाइट में जान है। -https://uidai.gov.in/ उसके बाद आपको दिख रहा होगा की Update Aadhaar Details(online)  उसमे क्लिक करे। 
update aadhar


Step2- इस पेज में आपको कुछ मैसेज दिख रहे होंगे उन्हें  पढ़ लीजिये  निचे "TO SUBMIT YOUR UPDATE/ CORRECTION REQUEST PLEASE  CLICK HERE" पर क्लिक करना है जैसे नई निचे इमेज में दिखाया गया हाउ।
update aadhar


Step3- अगली पेज में अपना Aadhar number enter करना है, Text Verification Enter कर Send OTP पर क्लिक करना है।
enter your aadhaar number


Step4- Login होने के बाद आपके सामने एक लिस्ट खुल जाएगी आपको जिस किसी में  है उसे टिक करके सबमिट करे।
select what change details


आप देख सकते है मेने नाम की मिस्टेक को ठीक करने के लिए Nmae में सुधर कर रहा हु
enter your real name to changing aadhar name


next page में आपसे confirmation पूछा जाएगा जिसे क्लिकज करके प्रोसीड पर क्लिक क्र दे
click to confirm


Step5- यहाँ आपको scan की हुई डॉक्यूमेंट कॉपी अपलोड करनी है। अपलोड होते ही सबमिट पर क्लिक कर दे।
upload your document scan copy


Last & final Step- अगली स्क्रीन मे आपको BPO service provider select करना है आप यहा दोनों मे से कोई भी select कर सकते हैं। कोई भी एक select कर SUBMIT कर दीजिये।
select BPO .


लीजिये आपका काम हो गया। आपकी Aadhaar card name correction request successfully submit हो चुकी है। आपको status check करने के लिए URN number मिलेगा।
your URN number to track application


URN Number से आप अपने application को track कर सकते है।

कितने दिनों में आधार update हो जाता है ?

आधार कार्ड में लगभग 10-15 दिन लग जाता है। 

update हुए आधार कार्ड को कैसे प्राप्त क्र सकते है ?

आप आधार कार्ड को ऑनलाइन डाउनलोड कर  सकते है। https://eaadhaar.uidai.gov.in/ यहाँ से आप आसानी से अपने आधार को डाउनलोड कर सकते है।



  • related post

यदि आपको पोस्ट पढ़ने में दिकत आ रही है तो वीडियो को देखे पूरी जानकारी दी गयी है। 


उम्मीद है आपको ये पोस्ट हेल्पफुल लगी यदि आपके कोई सवाल या सुझाव हो तो नहीचने कमेंट करना न भूले। और आपने दोस्तों से भी शेयर करे. धन्यवाद। 

Twitters Ads Campaign कैसे चलाये - Twitter में Ads कैसे लगाए

Twitters Ads Campaign कैसे चलाये - Twitter में Ads कैसे लगाए

हेलो फ्रेंड्स मेरा नाम सतीश है और में Infotechker.com का Founder हु। में Digital marketing, SEO, Content Write का काम करता हु। ये मेरी दूसरी पोस्ट है hindiarticles.com पर आज में इस पोस्ट में आपको Digital marketing पार्ट Twitter Ads Campaign - Twitter में Ads कैसे लगाए, Setup कैसे करते है आज इस पोस्ट में बताऊंगा हिंदी में पूरी जानकारी।
run ads on twitter


Twitter Social Networking Website है जो की 140 words में Content या Information Sharing के लिए जानी जाती है। Twitter का use काफी हो रहा है खास करके इंडिया में ट्विटर पर काफी पंगे होते रहते है क्योकि यहाँ पर ज्यादा तर लोग Politics  का शिकार हो जाते है।


Twitter Ads Campaign कैसे चलाये- Twitter Campaign Setup कैसे करे।  

बात करते है Twitter से अपने ब्लॉग/वेबसाइट पर Traffic कैसे लाते है। फेसबुक की तरह Twitter भी Paid Ads Campaign की सुविधा Provide करता है।  Paid Ads Campaign चलाने के लिए लिए आपका Twitter Account होना जरुरी है।  Facebook Local Users को Target करता है जबकि Twitter International Users को Target करता है। ये आपके बिज़नेस को एक ब्रांड बनाने में मदद/सहायता कर सकता है। 

ज्यादा बाते न करते हुए अब जान लेते है की Twitter Ads Campaign  को Setup कैसे करते है। 

सबसे पहले Twitter पर Login करे। 
1- Click to Our Profile and Click Twitter Ads पर जाये। 
log in to twitter account

Twitter Ads पर क्लिक करते ही दूसरा पेज खुलेगा इसका लिंक। - Welcome to Twitter Ads पर चले जायेंगे। इसमें आपसे Country और Time Zone पूछा जाएगा। इन्हे भरते ही आप Next पेज में चले जायेंगे। 

आपको बता दू की Twitter - website, Follower, Tweets बिलकुल फेसबुक जैसा ही promote करता है। जैसे boost post  यहाँ boost Tweets होता है। 

जैसा की आप निचे फोटो में देख रहे है आपके सामने एक Create Campaign नाम से पेज आएगा उसमे क्लिक करे और पूरी डिटेल्स को भरे। 
create campaign name


फर्स्ट ऑप्शन  - में आपसे  Campaign नाम भरना होगा मेने भी ये भरा है आप स=देख सकते है। 
सेकेंड ऑप्शन - में आपको date डालनी है जब से आप अपना Ads run करना चाहते हो। 
थर्ड ऑप्शन - में आपको अपने वेबसाइट का नाम भरना है। 
फोर्थ ऑप्शन - में अपने वेबसाइट की categories सेलेक्ट करें।  
select campaign name

सबको भरने के बाद आप निचे जायेंगे तो Targeting Audience को भरना होगा।  फोटो में देखिये। वैसे ही जैसे हम फेसबुक में एड्स में करते है जैसे - Country Target, Gender-Male/Female  Language
जहाँ मेने लाल बॉक्स से मार्क किया है ये वाला पार्ट most Important है। यहाँ पर अपने site की Keywords, को डालना होगा जिससे आपकी वेबसाइट रैंक करती हो। 
select your audience on twitter ads


अब आप निचे आये यहाँ Set Your Budget भरना है।  यह पर आप अपनी Ads की Daily Budget set कर सकते हैं औरAds Campaign की total budget जैसे - एक दिन का 3$ spend करना चाहते है तो total आपको कितना दिन ads  है उसके हिसाब से Total budget Set करे। 
select budget


इसके बाद आपको लास्ट में जिसको भी ads में show करना है उसे चुनने या खुद  tweets को बनाये।
create ads on twitter campaign

Last n Final Step अपने Campaign को launch कर दे। 
Launch Campaign

और payments कर दे। आपके Twitters Campaign Ads चल जायेगा कुछ समय में। Twitter Team आपके Ads को Approval दे देगी तो आपका Ads शो हो जायेगा और आपने email  Information आ जाएगी। \
payment




Conclusion:- 
Twitter Ads एक brand की तरह काम करता है जिसकी मदद से आप अपने वेबसाइट या बिज़नेस को international Brand बना सकते है। केवल 140 word में आपके यूजर को अपनी तरफ आकर्षित करना होता है। 
इस पोस्ट को इंग्लिश में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे-How to Run Twitter Ads campaigns ?

                     
यह एक गेस्ट पोस्टिंग थी जो की Infotechker.com के owner ने लिखी है।  उम्मीद है आपको ये पोस्ट हेल्पफुल रही है. इसे अपने फ्रैंड्स से शेयर करे और निचे कोई सवाल या सुझाव हो तो कमेंट करे। धन्यवाद। 
GST  की कठिनाइयाँ और चुनोतीयाँ

GST की कठिनाइयाँ और चुनोतीयाँ

नमस्कार दोस्तों पिछले पोस्ट में हमने GST क्या है और GST के क्या लाभ है उसके ऊपर बताया था इस पोस्ट में हम GST  की जटिलता, चुनोतियाँ के ऊपर बात करेंगे।  GST  के लागु होने में क्या क्या परेशानी हो हो रही है इस पोस्ट में बताएँगे चलिए इस पोस्ट को पूरा पढ़े।
GST  की जटिलता / परेशानियाँ


GST  की कठिनाइयाँ  /चुनौतियां 


(Goods and Service Tax ) “वस्तु एवं सेवा कर” लागू तो हो चूका है। पर इसके सफलता पूर्वक संचालन में अभी कई कठिनाइयाँ है, और इसका प्रभाव भारत की अर्थव्यवस्था और समाज पर माध्यम अवधि के लिए जरुर पड़ेगा | जेसा की जब तक पंजीयन प्रक्रिया पूरी नहीं हो जाती और पूर्व के करो का भुगतान एवं रिफंड (refund), और पूर्व से लंबित विवादों का निपटारा नहीं हो जाता | व्यवसाय करने में थोड़ी परेशानी तो होगी और कुछ हद तक महंगाई भी बड़ेगी | और सरकार के सामने भी कई चुनोतिया हे |
जैसे कई सार्थक और भ्रम फेलाने वाले विवादों और विरोधो का निपटारा करना होगा | (G.S.T.) से सम्बंधित जानकारी को लोगो तक जल्दी और सरल रूप में पहुचना होगा | और आधुनिक कर प्रणाली विस्तृत और सक्रीय करना होगा | करो से प्राप्त आय का बटवारा केंद और राज्य सरकारों में बिना राजस्व का नुकसान किये करना होगा | और कर की दर को भी स्थिर रखना होगा | फिर जिन वस्तुओ को राज्यों के विरोध के कारण (G.S.T.) से बाहर रखा गया हे, उन को कर की सीमा में लाना होगा. और जिन वस्तुओ पर अभी कर की दर ज्यादा है। या कर की सीमा से हटाना हे, ये संशोधन जल्दी करना होगे और सार्थक रूप से करना होगे | 

हलाकि कुछ संशोधन सरकार कर चुकी | जैसे की पेट्रोल , नेचरल गैस , इलेक्ट्रीसिटी, को कानून बना कर टेक्स के दायरे में रखा हे | पर राज्यों के विरोध के कारण कर नहीं लगाया हे | जब राज्यों की सहमती होगी तो G.S.T में शामिल कर लिया जायेगा, इसके लिए अलग से कानून बने की आवश्कता नहीं होगी | इन के शामिल होते ही महंगाई में बहुत हद तक कमी आएगी. और व्यापार भी तेजी से वृधि करेगा | किन्तु अभी सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनोती यहाँ है।  

भारत एक कृषि प्रधान देश हे, और लोग भी ज्यादा शिकक्षित नहीं हे, और सारे व्यापारिक लेनदेन बिना लेखांकन के होते हे | जिनका कोई विवरण और प्रमाण भी नहीं होता | हमारे देश की आबादी अधिक होने के बाद भी करदाताओ की संख्या हमारे देश की आबादी का 1% भी नहीं हे | और हमारे देश में एक व्यक्ति एक से जयादा व्यवसाय करता हे या व्यवसाय और नोकरी दोनों करता हे | ऐसे में कर और कर की दर सुनिश्चित करना एक जटिल कार्य हे, इसका भी उचित समाधान करना होगा | सरकार एक सबसे बड़ी चुनोती रियल स्टेट (Real State) को G.S.T के अंतर्गत लाना हे कियो सब से जयादा कालाधन रियल स्टेट (Real State) में ही हे | 


इसके G.S.T के दायरे में आने से आयकर (Income Tax) बढेगा और सरकार के सस्ते घर बनाने की योजना को भी फायदा होगा | हलाकि G.S.T में क्रय विक्रय दोनों दोनों का विवरण देने का प्रावधान हे | जिससे भी आयकर का (Income Tax) दायरा बढेगा, और सरकार को राजस्व की प्राप्ति होगी | कियोकी इससे शुद्ध आय का पता लगाना आसान होता हे और लाभ के प्रतिशत का भी सही मूल्यांकन होगा | अगर सरकार इन सब जटिलता का समाधान कर लेती हे तो | G.S.T एक सार्थक और लाभप्रद कर सुधार होगा |


उम्मीद है है आपको GST  की कठिनाइयाँ / चुनोतियाँ  के बारे में अच्छे  जानकारी मिली है। यदि आपको भी सुझाव या कोई प्रसन है तो निचे कमेंट करे और इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे। ध्न्यवाद। 
GST किया है ? और GST के लाभ

GST किया है ? और GST के लाभ

gst goods and services tax


GST (Goods & Service Tax) किया है ? GST के क्या लाभ है ?

GST एक अप्रत्यक्ष कर ( Indirect Tax ) हे | जिसका पूरा नाम “ वस्तु एवं सेवा कर “  (Goods and  Service Tax ) हे | अप्रत्यक्ष कर ( Indirect Tax )  वो होता हे, जो हमारे दवारा बेचीं गई वस्तु एवं सेवा या उसके निर्माण पर दिया जाता हे, इसी तरह ( G.S.T. ) जी.एस.टी. भी एक अप्रत्यक्ष कर (Indirect Tax ) हे | ( G.S.T. ) जी.एस.टी. 30 जून को रात 12 बजे से पुरे भारत में लागू हो जायेगा |     ( G.S.T. ) जी.एस.टी. की चार दर 5% 12% 18% 28% हे | 
अभी तक:-  
 (Central Excise) रास्ट्रीय उत्पाद शुल्क                      
 (Service Tax) सर्विस टैक्स
 (Vat / Sales Tax) वेट / विक्रय कर 
 (Entertainment Tax) मनोरंजन कर   ----  (G.S.T.) वस्तु एवं सेवा कर            
 (Luxury Tax) विलासिता कर
 (Lottery Tax) लाटरी कर
 (Octroi Tax) चुंगी कर
 (Entry Tax) प्रवेश शुल्क
 (Purchase Tax) क्रय शुल्क 

इतनी तरह के अप्रत्यक्ष कर (indirect Tax) लगा करते थे | अब इन सब अप्रत्यक्ष करो (Indirect Taxs) की जगह, एक अप्रत्यक्ष कर (Indirect Tax) (G.S.T.) जी. एस. टी. पुरे भारत वर्ष में लागू होगा |
जेसा की आप जानते हे हमारे देश में 29 राज्य और 7 केंद्र शासित प्रदेश हे | इस कारण इतने सारे अप्रत्यक्ष कर (indirect Tax) होने के बाद भी राज्यों के द्वारा भी कर लगाये जाते हे | जो राज्यों की आर्थिक स्थति के आधार पर स्थाई और अस्थाई तोर पर लगाये जाते हे | और इन सब अप्रत्यक्ष करो (Indirect Taxs) के प्रतिशत भी हर राज्य में अलग अलग होते हे | इसी कारण से (G.S.T.) जी.एस.टी को लागू  किया गया हे | इसके लागू होने से पुरे भारत में एक समान कर और कर की दर होगी | इसके लागू होते ही देश के 1150 चेक पोस्ट (Check Post) बंद होने से वस्तुओ का प्रवाह आसान होगा | राज्य और केंद्र के मिलकर 16 अप्रत्यक्ष कर (indirect Tax) भी समाप्त होने से व्यापार सरल होगा | 

(G.S.T.) जी.एस.टी. से लाभ :- समान कर प्रणाली होने से व्यापार में भी आसानी होगी, व्यापारिक पंजीकरण और रिटर्न (return) दाखिल करने में भी आसानी होगी | कागजी कार्यवाही में भी कमी आयेगी, जिससे कम मानवीय श्रम लगेगा | जिससे विभागीय और व्यापारिक खर्च भी कम लगेगा, और समय और धन दोनों की बचत होगी | कई प्रकार के कर होने के कारण अभी 35% कर लगता हे | और 1% विभागीय खर्च, २% क़ानूनी खर्च और कई कर एसे थे जो दुसरे कर से एडजस्ट (adjust) नहीं होते थे, या उन में इनपुट (Input) क्रेडिट credit का प्रावधान ही नहीं होता हे |

क़ानूनी दस्तावेज के अभाव में वस्तुओ पर दुगना तिगुना कर लग जाता था | अंतर राज्यीय विक्रय पर गलती से जयादा कर लग जाने पर उसके रिफंड की (refund) क़ानूनी कार्यवाही करनी पड़ती थी | उसका का खर्च अलग से वहन करना पड़ता था | और कई मामलो में कार्यवाही  लम्बी चलती थी | पहले विभागीय कार्यवाही फिर ट्रिब्यूनल फिर कोर्ट, हाई कोर्ट, फिर सुप्रीम कोर्ट तक अपील करना पड़ती थी |

 इससे कई सालो तक केस (cease) चलता रहने से रहने कार्यशील पूंजी रुक जाती थी | और सालो का क़ानूनी खर्च अलग से, जिससे व्यवसाय को भरी नुकसान होता था या वो बंद हो जाते थे | इन सब व्ययो और जटिलता के कारण वस्तु की लगत में 55 % तक की वृधि हो जाती थी | जिसका सीधा और अंतिम भार उपभोक्ता पर पडता था | जटिल क़ानूनी प्रक्रिया होने के कारण न विदेशी निवेश आता था. और न नये उधोग शुरू हो पते थे | इस कारण राष्ट्र की प्रगति को भी नुकसान पहुचता था | तथा नोकरीयो का आभाव, और महगाई जेसी समस्या का सामना करना पड़ता था | (G.S.T.) जी.एस.टी. में समान कर प्रणाली और अधिकतम कर की दर (Tax Rate) 28% होने से इन सब समस्या में सुधार होगा | 

और एक विशेष जानकारी की जी.एस.टी.(G.S.T.) एक अप्रत्यक्ष कर (indirect Tax) हे | और आयकर एक प्रत्यक्ष कर (Direct Tax) हे | परिवर्तन सिर्फ अप्रत्यक्ष करो (Indirect Taxes) में हुआ हे | प्रत्यक्ष करो (Direct Taxes) में नहीं | इसलिए (G.S.T.) जी.एस.टी. का आयकर (Income Tax) से कोई सम्बन्ध नहीं हे GST से आम जनता और व्यापारी ओंर इंडस्ट्री (Industry) सभी को लाभ हे | 

कारोबारी को अलग अलग करो के पंजीयन से मुक्ति मिल जाएगी अलग (return) रिटर्न और चालान भी नहीं भरना होगा जिससे पेसे और समय दोनों की बचत होगी और कर विवादों का निपटारा भी जल्दी हो जाये गा था देश के सभी चेक पोस्ट (Check Post) बंद होने से वस्तुओ का प्रवाह आसान होगा था ब्रांच को माल भेजना आसान होगा | और आम जनता को कालाबाजरी और मंहगाई में राहत मिलेगी | 

वस्तु के मूल्य समान और सस्ते होगे कियोकी देनिक आवशकता की वस्तुओ को 5% और 12% की सीमा में रखा गया हे खाद्य पदार्थ को एवं जीवन रक्षाक दवाओ को कर मुक्त रखा गया हे | अभी पुरे भारत में केवल 80 लाख लोग टैक्स भरते हे (G.S.T) जी.एस.टी. के माध्यम से सरकार का उदेश्य कर का दायरा बढ़ना हे नाकि कर की दर को | यदि ज्यादा लोग टैक्स भरेगे तो कर की दर कम होगी और राजस्व का भी नुकसान नहीं होगा इसलिए (G.S.T.) जी.एस.टी. सभी के लिए लाभप्रद और सबसे बड़ा कर सुधार हे |

यदि आप जानना चाहते है तो GST की कठिनाइयाँ और चुनौतियां क्या क्या है तो इसे जरुर पढ़े

  • Other Related Post
              2 तरीकों से pan card को aadhar card से आसानी से linked करे
              Aadhar Card se Pan Card apply kare online
             

उम्मीद है आपको इस पोस्ट से GST(goods & services tax) के बारे म अधिक जानकारी प्राप्त हुई है यदि ये पोस्ट आपके लिए हेल्पफुल रही तो इसे अपने दोस्तों से शेयर जरूर करे। और सब्सक्राइब करे। और भी जानकारी के लिए निचे कमेंट करे कोई सुझाव हो तो निचे कमेंट करे। धन्यवाद। 
2 तरीकों से pan card को aadhar card से आसानी से linked करे

2 तरीकों से pan card को aadhar card से आसानी से linked करे

केंद्र सरकार(Central Government) के आदेश अनुसार पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक (Linked) करना बहुत ही जरुरी है। जिन लोगों का पैन कार्ड आधार से लिंक नहीं होगा, उनके पैन कार्ड को 1 July के बाद Reject  भी किए जा सकता हैं. और यदि पैन रिजेक्ट हो गया तो पिछले वित्तीय वर्ष (2016-17) के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल नहीं कर पाएंगे और न ही रिफंड क्लेम कर पाएंगे.
linked pan card with aadhar card

Income Tax Department की website पर आधार कार्ड और पैन लिंक करने का Option अब Activate हो चुका है. अब यदि आपके नाम की spelling पैन और आधार में अलग अलग होगी तब भी आप इसे लिंक कर सकेंगे. वे लोग जिनके आधार कार्ड में दी गई नाम की spelling उनके पैन कार्ड में लिखे हुए नाम की spelling से मेल नहीं खाती है, उनके लिए यह राहत की बात है.

अब वेबसाइट में पहले जैसी problem नहीं आएगी नाही आपको Login n Register करनी की जरुरत है। अब आप डायरेक्ट Income Tax की वेबसाइट पर जाके बस आपको अपना पैन कार्ड नंबर और आधार कार्ड नंबर दाल के सबमिट करना है। चलिए  देखते है फोटो के साथ।


pan card को Aadhar card से linked कैसे करे ? फोटो के साथ। 

सरकार Income Tax Return File करने के लिए आधार नंबर को अनिवार्य कर चुकी है। इसके लिए आपके पैन कार्ड का आधार कार्ड से लिंक होना जरूरी है। जानिए, कैसे पैन कार्ड को आधार से लिंक किया जा सकता है।

Step1.-  पहले तो आपको Income Tax Department की वेबसाइट :- https://www.incometaxindiaefiling.gov.in/e-Filing/Services/LinkAadhaarHome.html पर जाना है। 
income tax department official website

  1. जैसे की आप फोटो में देख पा रहे है मैंने तीर के निशान से दिखा रखा है आप वह क्लिक करे Linked Aadhar
Step2.- इस पेज में आते ही आपको फॉर्म दिखेंगे जिसमे आप पैन नंबर, आधार नंबर, नाम और लास्ट में कैप्चा कोड दाल कर सबमिट कर दे। 
linked aadhar to pan card


  1. Enter Pan Number
  2. Enter Aadhar Number
  3. Enter Your Aadhar Name
  4. Enter Capctha Code 
  5. File Submit
फिर आपको success massage दिखे जिसका मतलब यह है आपका पैन कार्ड लिंक हो गया है। 
success massage

तो देखा आपने कितनी आसानी से पैन कार्ड आपका आधार कार्ड से लिंक हो गया इसमें नाही आपको कोई लॉगिन करनी की झंझट नाही रजिस्टर करनी की।

1 Massage द्वारा भी पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कर सकते है। 

हल ही में इस मोबाइल सिस्टम की सुविधा लांच की है इसलिए में इस पोस्ट को अपडेट किया। एक मैसेज सेंड कर के भी आप आसानी से पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कर पाएंगे। चलिए देकते है कैसे -

Send SMS to 567678 or 56161 from your registered mobile number in following format: 

UIDPAN<SPACE><12 digit Aadhaar><Space><10 digit PAN>

Example: UIDPAN 123456789123 ABCDE1234F

linked pan card to aadhar


यदि आपका कोई सवाल हो तो हमें निचे कमेंट में बताएं और हो सकते तो अपने साथियो को भी ये पोस्ट शेयर करे ताकि वे भी अपने पैन कार्ड को लिंक जल्द कर ले। और हमारे साथ जुड़े रहिये इसी तरह की जानकारी हिंदी में पाने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।