May 9, 2020

सदियों के महानायक अमिताभ बच्चन जी का जीवन परिचय

सदियों के महानायक अमिताभ बच्चन जी का जीवन परिचय

सदियों के महानायक अमिताभ बच्चन जी का जीवन परिचय

भारतीय सिनेमा इतिहास का अगर सबसे कोई सबसे बड़ा अभिनेता है, तो वह निश्चित रूप में अमिताभ बच्चन है. इनके जितना प्यार भारतीय फैंस शायद ही किसी और अभिनेता को करते हो. अपने दमदार अभिनय से इन्होने हमेशा ही लोगो का दिल जीता है.

भारत में जो कोई भी एक्टिंग में अपना करियर बनाना चाहता है. वह 6 फिट 2 इंच के अमिताभ बच्चन को अपना आदर्श मानता है. आज हम आपकों अपने इस ख़ास लेख में अमिताभ बच्चन से जुड़ी सच्ची खबर (sachhi khabars) और कुछ महत्वपूर्ण जानकारीयां देंगे.

बचपन और परिवार

अमिताभ बच्चन बॉलीवुड के महानायक कहे जाते हैं और अपने 80 के दशक से लोगो के दिलो में अब तक राज कर रहे  है. इनका जन्म 11 अक्टूबर 1942 को उत्तर प्रदेश के इलाहबाद में हुआ था.

इनके पिता हिंदी साहित्य के बहुत बड़े कवि थे, जिनका नाम हरिवंश राय बच्चन था. इनकी माता का नाम तेजी बच्चन था. अमिताभ बच्चन को उनके अभिनय के लिए 'एंग्री यंग मेन' की उपाधि से नवाजा गया है. इन्हें प्यार से शहंशाह, सदियों के महानायक, बिग बी के नाम से भी जाना जाता है.

अमिताभ बच्चन के भाई का नाम अजिताभ बच्चन है. इन दोनों भाइयो में अमिताभ बड़े है. अमिताभ जी के बचपन का नाम इन्कलाब था. इनके पिता के साथी रहे कवि सुमित्रानन्दन पन्त ने उनका नाम इन्कलाब से अमिताभ रखा था.

पढ़ाई : अमिताभ बच्चन शेरवुड कोलेज नैनीताल के छात्र रहे हैं. इसके बाद की पढ़ाई उन्होंने दिल्ली के करोड़ीमल कॉलेज से की है. इन्होने दो बार एम ए की डिग्री हासिल की है. अमिताभ पढ़ाई में अव्वल दर्जे के विद्यार्थी रहे है. कक्षा के अच्छे बच्चो के साथ इनकी गिनती होती थी.

शादी : अमिताभ बच्चन ने अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री जया बाहदुरी से 3 जून 1973 को इन्होने बंगाली संस्कार के अनुसार विवाह कर लिया था. इनके दो बच्चे है, एक बेटा और बेटी जिनका नाम अभिषेक और श्वेता है.

करियर : अमिताभ बच्चन ने 'सात हिन्दुस्तानी' फिल्म से अपने करियर की शुरुवात की थी. इसके बाद इन्होने बहुत फिल्मे की जो ज्यादा सफल नही हुई.

फिल्म जंजीर उनके करियर का टर्निग पॉइंट साबित हुई. इसके बाद इन्होने हिट फिल्मो की झड़ी लगा दी. इसके बाद हर दर्शक वर्ग में लोकप्रिय हो गये. इन्होने फिल्म इंडस्ट्री में अपने अभिनय का लोहा मनवाया.

आनंद, जंजीर, अभिमान, सौदागर, शोले, कभी-कभी, अमर अकबर एंथोनी, त्रिशूल, मुक्कद्दर का सिकन्दर, कालिया, सत्ते पे सत्ता, लावारिस, नमक हलाल, शक्ति, कुली, शराबी, मर्द, शहंशाह, अग्नि पथ,खुदा गवाह, मोहब्बते, बागवान, वक्त, सरकार, चीनी कम, भूतनाथ, जैसी सुपरहिट फिल्मो ने इन्हें बॉलीवुड का महानायक बना दिया.

अमिताभ बच्चन को असली पहचान 'जंजीर' फिल्म से मिली थी. यह फिल्म अमिताभ से पहले कई बड़े अभिनेताओ को ऑफर हुई थी, जिसमे मशहूर अभिनेता राजकुमार भी शामिल थे, लेकिन उन्होंने ये कहकर फिल्म मना कर दी कि  डायरेक्टर के बालो की तेल की खुशबु उन्हें पसंद नही थी.

अमिताभ के करियर का बुरा दौर : अमिताभ बच्चन की सभी फिल्मे टॉप पर चल रही थी, लेकिन 26 जुलाई 1982 को इनकी एक फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान इन्हें आंतो मे काफी गंभीर चोट लग गई थी, जिस वजह से इनका खून बहुत बह गया था. स्थिति इतनी नाजुक थी कि लोग समझ रहे थे की ये मर भी सकते है, लेकिन लोगो की दुवाओं की वजह से वो ठीक हो गये थे.

2000 में आई फिल्म मोहब्बते से इन्होने एक बार फिर इंडस्ट्री में कदम रखा था और इस फिल्म में उनके अभिनय की जमकर प्रशंसा हुई थो.

अमिताभ को मिले पुरस्कार : 2005 में आई फिल्म ब्लैक के लिए इन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इन्हें फिल्म पा के लिये भी राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाजा गया. इस फिल्म में ये अपने बेटे अभिषेक के बेटे बने थे.

सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर पर इन्हें 3 बार फिल्म पुरस्कार से नवाजा गया है. इन्हें 14 बार फिल्म फेयर अवार्ड भी मिल चुका है. अमिताभ बच्चन गायक, निर्माता, टीवी प्रजेंटर भी रहे है. सरकार ने उन्हें पद्मश्री और पद्म भूषण से नवाजा हुआ है.

May 8, 2020

Guest blog: Ultimate tips: how to get backlink form blog site

Guest blog: Ultimate tips: how to get backlink form blog site

Ultimate tips: how to get backlink form blog site?

किसी भी वेबसाइट से बैकलिंक कैसे पाए?

ब्लॉगिंग की दुनिया में शामिल होने वाले हर Beginners के लिए शुरुवाती दिनों में अपने ब्लॉग पर google से ट्रैफिक लाना सबसे मुश्किल काम होता है। क्या आपको पता है, Google से रैंकिंग और ट्रैफ़िक के साथ बैकलिंक का बड़ा संबंध है।

हैलो फ्रेंड्स स्वागत है आप सबका आज के हमारे इस महत्वपूर्ण आर्टिकल में हम बात करेंगे कि किन किन तरीको को अपनाकर आप छोटे या बड़े वेबसाइटों से बैकलिंक प्राप्त कर सकते है। दोस्तो मेरा नाम है Jitendra Gupta और मै SEO के अलावा <a href="https://www.lyrics-database.org/">www.lyrics-database.org</a> और न्यूज ब्लॉग <a href="https://fakingnews24.blogspot.com/">fakingnews24</a>  के लिए भी पोस्ट लिखता हूं।

चलिए मुद्दे पर आते है कि क्या किसी भी छोटे या बड़े वेबसाइटों से बैकलिंक पाना संभव है। दोस्तो इस सवाल का मेरा एक ही जवाब है "हां" ऐसा बिल्कुल संभव है और आज मै आपको उन Tricks के बारे में बताऊंगा जिसे फॉलो करके आप भी अपने ब्लॉग के लिए किसी भी साइट से बैकलिंक पा सकते है।

दोस्तों आज के समय नए ब्लॉगर के लिए किसी भी authority वेबसाइटों, या यहां तक ​​कि छोटे ब्लॉगों से भी Quality बैकलिंक प्राप्त करना, हर दिन कठिन और कठिन होता जा रहा है। आप सैकड़ों को Email भेजते हैं, लेकिन अक्सर, 1% से भी कम लोग आपसे संपर्क करेंगे। तो आपको क्या करना चाहिए?  चलिए इसे विस्तार से समझते हैं।

Quality बैकलिंक  बनाने के लिए आपको तीन चीजों को अपनाना पड़ेगा।

[पहला] किसी भी साइट से बैकलिंक क्रिएट करना वैल्यू एक्सचेंज करने के समान ही है। (इसे Simple language में कहे तो जितना valuable आर्टिकल आप provide करोगे तब दूसरी पार्टियों से Quality बैकलिंक create करने का chances उतना ही बढ़ जाता है।)

[दूसरा] contact करने के लिए सही आदमी का खोज करना बहुत ही महत्वपूर्ण है।
जैसे- यदि आप किसी बड़ी कंपनी के CEO से आपसे जुड़ने के लिए संपर्क करते हैं, तो वह अपना समय आपके साथ जोड़ने में बेकार नहीं करेगा। है ना!
लिंक करने के लिए आपको सही व्यक्ति को खोजने की जरूरत है, जैसे कौन उस वेबसाइट पर सामग्री लिख रहा है, या साइट का प्रबंधन कर रहा है। उन्हें आपसे लिंक करने के लिए कहें।

और [तीसरा] relevant, personalized messages फॉर्मेट को अपनाना। कोई भी सामान्य संदेश अब काम नहीं करने वाला।

तो आइए इस जानकारी भरे समुन्द्र में डुबकी लगाते है और विस्तार से जानते है कि कैसे आप इन तीनों चीजों को पूरा कर सकते हैं।

तो सबसे पहला है High Quality Content कैसे लिखे। अच्छा बताइए, आप लोगों को आपके पास वापस लिंक करने के लिए कैसे Approach करते हैं यह आपके ऊपर निर्भर करता है। ऐसा करने का एक सरल तरीका है, दूसरी पार्टी को valuable creative और High Quality content ऑफर करना तथा उनकी वेबसाइट के broken link या Error को Findout करने में यदि आप उनकी Help करते हैं, तो यहां एक अच्छा मौका है कि वे आपसे लिंक करने की अधिक इच्छा रखेंगे।

Valuable High Quality Content जोड़ने का एक और तरीका उन्हें बताएं कि आपके पास इन्फोग्राफिक्स या गाइड हैं जो उनकी वेबसाइट पर उपलब्ध सामग्री से संबंधित है और उनके Readers के नॉलेज को बढ़ा सकते हैं। यह relevant और Updated जानकारी उनके दर्शकों की बेहतर सेवा करने में मदद करता है। यह न केवल उनके पाठकों को लाभान्वित करता है बल्कि Google के लिए भी बेहतर दिखता है। 

अब यहां पर आप अपना Action प्लान बनाना शुरू करें। उन वेबसाइटों की सूची बनाना शुरू करें जिनसे आप बैकलिंक लेना चाहते है और फिर प्रत्येक साइट पर व्यक्तिगत ईमेल भेजें जिसे आप पिच करना चाहते हैं। अब, जैसा कि यह पता चला है, की जो आप नियमित रूप से पुरानी सामग्री या पुराने फॉर्मेट के मैसेजेस सेंड करते है, शायद आप उससे कोई परिणाम प्राप्त नहीं करेंगे।

तो, यहां पर हम आपको कुछ शानदार सामग्री जो आप बना सकते हैं जो आपको इसमें मदद करेंगे, अगर आप किसी भी तरह के visual diagrams, वीडियो, इन्फोग्राफिक्स, चार्ट, इंटरेक्टिव मैप्स जैसे important कंटेंट अपने ईमेल में शामिल करते है तो आपको बैकलिंक मिलने के chances100% हो जाएगा।  

चलिए अब प्वाइंट नंबर 2 पर चलते। जैसा की ऊपर हमने बात किया कि बैकलिंक के लिए आपको सही व्यक्ति ढूंढना पड़ेगा। कभी-कभी संपर्क करने के लिए सही व्यक्ति ढूंढना वास्तव में कठिन है और आप जैसे आप किसी ब्लॉग या वेबसाइट पर जाते है लेकिन उनके पास अपना ईमेल नहीं है, उनके पास बस एक फॉर्म है। आप फार्म के जरिए उनसे contact करने की कोशिश करते है, लेकिन कई दफा यह अच्छी तरह से काम नहीं करता है।

खैर, अगर आप भी ऐसी स्थिति से गुजरते है तो मेरे पास आपके लिए कुछ अन्य विधियाँ हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं। केवल contact page के जरिए contact करने के अलावा आपको एक personal approach वाला तरीका अपनाना चाहिए। यदि आप contact पेज और generic Email से गुजर रहे हैं तो आप उनसे पूछ सकते है कि वो कौन व्यक्ति है जिनसे हम लिंक के लिए कॉन्टैक्ट कर सकते हैं इस बारे में उनसे पूछे उन्हें अपना परिचय दें।

जब आप ऐसा करते हैं, तो वहां तक पहुंचना बहुत आसान हो जाता है, और तब उन्हें आप से जोड़ने के लिए मना लें। लेकिन अगर आपको वह व्यक्ति नहीं मिल रहा है, तब ऐसी स्थिति में आप लिंक्डइन जैसी साइटों का उपयोग कर सकते हैं। लिंक्डइन पर, उन लोगों का प्रोफाइल चेक कर सकते हैं जो उस कंपनी के content या मार्केटिंग incharge है। यह सही व्यक्ति को खोजने का सबसे अच्छा तरीका है।

दूसरा तरीका है आप उनके ब्लॉग पर लेखक के बायो(Bio) को देख सकते हैं।  इससे आपको अंदाजा हो जाएगा कि कौन उस ब्लॉग के लेखों को एडिट करता है। इस तरह आप उन्हें लिंक्डइन पर खोज सकते हैं। इन सब बातों के इतर सही जानकारी खोजने के लिए आप क्रोम एक्सटेंशन का भी उपयोग कर सकते हैं।

क्रोम एक्सटेंशन सही ईमेल पता खोजने के लिए वास्तव में आसान तरीका है । मैन्युअल रूप से पृष्ठों को देखने और घंटों बिताने के बजाय, कुछ एक्सटेंशन हैं जो आपके काम को आसान बनाते हैं। और वो है
1) hunter.io
2) VoilaNorbert और
3)Find Email का भी उपयोग कर सकते हैं। ये तीनों एक्सटेंशन जो वास्तव में अच्छी तरह से काम करते हैं और वे उपयोग करने में भी आसान हैं। इन सभी में मुफ्त संस्करण भी हैं तो आप मुफ्त में कुछ ईमेल पा सकते हैं।

अब आते है तीसरे प्वाइंट पर जैसा की दोस्तों हम इस बारे में ऊपर बात कर चुके है कि 2020 में Relevant, Personalized Message format ही बड़ी कंपनियों को Approach कर सकता है कोई सिम्पल सा दिखने वाला मैसेज नहीं।

चलिए इसके बारे में विस्तार से जानते है। यहां पर एक valueable मैसेज compose करे  और देखें कि कौन कौन से चीजों को आप personal रख सकते हैं (Simple लैंग्वेज में कहे तो एक ऐसा unique सा मैसेज लिखिए )एक अनोखे तरीके से जो लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करें यह उतना ही सरल हो सकता है।

दूसरी तरफ आप उन लोगों पर नज़र रखने की जरूरत है जिन्होंने वापस आपके ईमेल का जवाब दिया है, और जिन्होंने आपके ईमेल का reply नहीं किया, उन्हें एक बार फिर से Email करे, इससे आप को रेस्पॉन्स मिलने के चांसेज बढ़ जाते हैं। अब आपके लिए यहां एक स्क्रिप्ट और ब्रेकडाउन है। आपका पहला वाक्य को उनका ध्यान खींचने की बहुत जरूरत है। उन मुद्दों को ईमेल में शामिल करें जिन्हें आप उनकी साइट पर देखते हैं।

दूसरा वाक्य, अगर आप आँकड़े द्वारा एक समाधान प्रदान करते हो। उन्हें बताएं कि यह उनकी मदद कैसे कर सकता है।
तीसरा, और महत्वपूर्ण point यहां पर आप एक बैकलिंक के लिए पूछ सकते है। आइए इस बारे में ध्यान रखने के बारे में बताते हैं। इस प्रक्रिया का पालन करने के लिए आप Mailshake जैसे टूल का भी उपयोग कर सकते हैं जहाँ आप फ़ील्ड बना सकते और मर्ज कर सकते हैं।

इस तरह से Massage बहुत अधिक Personalized हो जाते हैं। अगर आप इस संरचना का पालन करते हैं, तो यह आपको बैकलिंक दिलाने में 100% कारगर साबित होगा।

फ्रेंड्स अगर आप इस आर्टिकल को पढ़ रहे है तो जाहिर सी बात है की आप अपने ब्लॉग को नई ऊंचाई पर ले जाने के लिए serious हैं। फ्रेंड्स था पर आपके लिए एक प्लस प्वाइंट है,(अगर आप गेस्ट पोस्ट लिख कर dofollow बैकलिंक पाना चाहते हैं तो आप मेरे ब्लॉग www.lyrics-database.org पर visit जरूर करें)
Important:-
आखिरी में आप सब के लिए मेरे तरफ से एक off page SEO का बोनस ट्रिक्स दे रहा हूं।
your niche + “write for us”
your niche + “write for”
your niche + “guest posting”
your niche + “guest post written by”
your niche + “guest post guidelines”
your niche + “contribute an article”

आप इस कोड का उपयोग कर के अपनी niche से रिलेटेड गेस्ट पोस्ट accept करने वाले ब्लॉग साइट सर्च कर सकते है।(for ex: अगर मेरा lyrics ब्लॉग है तो मै गूगल में search करूंगा [lyrics + “submit your lyrics”] इस तरह lyrics पोस्ट accept करने वाले सभी ब्लॉग गूगल सर्च में आ जाएंगे )
तो दोस्तो Off पेज SEO और backlink प्राप्त करने के लिए जो भी महत्वपूर्ण SEO Ultimate Tips और Tricks था वो हमने इस पोस्ट में डाल दिया है। हम उम्मीद करते हैं कि इस पोस्ट के माध्यम से आप अपने ब्लॉगिंग कैरियर को और उचाई तक लेकर जाए।

May 1, 2020

Rima Bose : उड़ान - Poem- Poem

Rima Bose : उड़ान - Poem- Poem


उड़ान - Poem


अगर  हम पक्षी होते
तो स्वछंद रूप से गगन में पंखो को पसार कर उड़ते
संसार की कोई फ़िक्र नहीं होती
जहां दाना पानी मिलता ,वहां चुग लेते
ऐसी उड़ान भरते की हवा भी  हमे नहीं छू सकती
रवि की पहली किरण से पहले उठ जाते
दिन ढलने से पहले अपने छोटे आशियाने में वापस जाते
अगर हम पक्षी होते
रोज- रोज समाज में फैली अराजकता, हिंसा से दूर रहते
रात को गहरी निद्रा का आनंद उठाते
आकाश के चारो ओर चक्कर लगते
प्रकृति की अद्भूत सुंदरता को निहारते
अगर हम पक्षी होते
स्वार्थी मानव बन जाते है शिकारी
मार -गिराकर करते है अपनी इच्छा पूरी
कभी जाल में फंस जाते
कभी पिंजरे में बांध हो जाते
खो देते है हम आज़ादी हमारी
अगर हम पक्षी होते

रंग -बिरंगे फूलो पर बैठे
आज़ादी का लुफ्त उठाते
तरु की छायांदार डालियों पर बैठे
खट्टे -मीठे फल खाते
प्यार भरे संदेश इस दुनिया को हम पहुंचाते
देश के सैनिको को सलाम करते
और आज़ादी के गीत गाते
अगर हम पक्षी होते
लेखिका  : रीमा बोस


Apr 10, 2020

कोरोना को है हराना

कोरोना को है हराना

विश्व में चारों तरफ फैला है कोरोना
नाम सुनते ही सभी कहते हैं, हमसे दूर रहना
इतिहास में पहली बार आया यह बीमारी 
सभी चाहतें है एक दूसरे से बनाये रहे दुरी
सरकार ने किया सभी जगह लोखड़ौन 
घर में करना है इसका पालन
देशवाशी ने समझा हाथ धोना है कितना ज़रूरी 
तभी इस वायरस से मुक्ति मिलेगी पूरी 

डॉक्टर और नर्स सेवा कर रहे है दिन रात 
सफाईकर्मी भी मिला रहे है हाथ से हाथ
कोरोना से डरकर ,यह  बीमारी मत छुपाओ
डॉक्टर से जाकर तुम इसकी जांच कराओ
जो जागरूक नहीं उसको जगाओ
तभी इस भयानक बीमारी से मुक्ति पाओ
कोरोना से कोई भी मत डरना
यह सबको है समझना
यह युद्ध है जो हमको नहीं हारना
यह जंग हमे है जीतना

कोरोना को है हराना

सफलता की चाबी

सफलता की चाबी

हम सब सफल होना चाहते है. सफलता पाने के लिए कुछ परिश्रमी लोग दिन - रात मेहनत करते है. कुछ लोग
सफल होने के लिए शॉर्टकट का प्रयोग करते है . इन वर्ग के लोगो को रातों रात सफलता चाहिए होती है . उसके
लिए वह कोई भी हद पार कर सकते है . यह कहानी इसी विषय पर आधारित है .
विनय आठवीं कक्षा का छात्र था. विनय को खेलकूद में अधिक दिलचस्पी थी . पढाई में उसका ज्यादा मन नहीं
लगता था. इसका कारण था उसका मेहनत न करना और बुरा संगती . विनय के पिताजी को विनय से काफी
उम्मीदें थी . विनय के पड़ोस में उसका दोस्त अमल रहता था . अमल पढ़ने में काफी तेज और कुशाग्र बुद्धि का
था. वह रात दिन मेहनत करता और हर विषय में अच्छे अंक लता था. सफलता की चाबी अमल के लिए उसकी
मेहनत थी . अगर हम परिश्रम पर ध्यान देंगे तो मंज़िल अवश्य प्राप्त होगी . सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है अमल का
खुद पर विश्वास . आत्मविश्वास के बल पर हम बड़े से बड़े चुनौतियों को हरा सकते है .
विनय ने सोचा की परीक्षाएं सर पर है . उसने अछि तैयारी बिलकुल नहीं की है . पिचले परीक्षा का भी परिणाम
कुछ खास न था . विनय ने शार्ट कट का एक रास्ता अपनाया जो बिलकुल गलत था . अमल की तरह लगन और
दृढ़ संकल्प की एक भी बूंद विनय में न था , विनय ने परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए छोटे छोटे कागजो पर उत्तर
लिखने का फैसला किया. अमल परीक्षा के दो दिन पहले विनय से मिला . दोनों एक साथ कोचिंग क्लास जाते थे .
वहा अमल को एक दुसरे सहपाठी से पता चला की विनय धोके का रास्ता अपना रहा है.
अमल ने विनय से बात करने की सोची . अमल ने विनय को समझाया "धोखा देना अनुचित है .बड़ो के उम्मीदों
पर खरे उतरने के लिए उसे धोका का नहीं , मेहनत और सच्चाई का मार्ग अपनाना होगा . आगे चलकर तुम
विधालय से निष्कासित हो सकते हो और किसी भी विधालय में तुम्हारा प्रवेश नामुमकिन हो जाएगा";
 विनय ने अमल की बातों पे ध्यान दिया और कहा - "पिताजी मुझसे नाराज़ हो जाएंगे , उनको मुझसे उम्मीदें है "; .अमल ने कहा की तुम पिताजी से कहना की अपने तरफ से पूरी कोशिश करूँगा और अगले साल आपको निराशा नहीं होगी . विनय ने दो रात जागकर पढाई की और सिर्फ पास हो गया . उसने पिताजी से बात की. पिताजी ने उसे समझाया की "पढाई की भी उतनी कदर करो जितना तुम खेलकूद की करते हो . अगले साल परिश्रम करो सफलता तुम्हारे कदम चूमेगी ". विनय के आखों में आसूं आ गए. उसने अमल को धन्यवाद दिया . अमल ने एक सच्चे साथी होने का परिचय दिया है . अमल जैसे दोस्त की ज़रुरत हर जगह है . अपने लक्ष तक पहुंचने के लिए परिश्रम के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है .

Feb 19, 2020

DA & PA क्या है? ओर आपने ब्लॉग की DA & PA कैसे बढ़ाये?

DA & PA क्या है? ओर आपने ब्लॉग की DA & PA कैसे बढ़ाये?

यदि आपने हाल ही में अपने Blog या Website की शुरुआत की है! और इंटरनेट पर अपने बिज़नेस की ऑनलाइन पहचान बनाने के लिए आप नई-नई चीजें सीख रहे हैं! इस पोस्ट में आपको da -pa  के बारे में जनकारी देंगे की यह आपकी वेबसाइट के लिए होना क्यों जरूरी है।

और आज के इस लेख में हम बात करेंगे की यह DA और PA क्या है? जिस पर अक्सर कई Bloggers ध्यान नहीं देते परंतु DA और PA के बारे में जानकारी होना आज आपकी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए बेहद जरूरी हो चुका है।

दोस्तों जब आप Blogging फील्ड में नए होते हैं! तो  आपको कई ऐसी जानकारी लेनी पड़ती हैं! जो कि आपने आज से पहले कभी सुना भी ना हो!

इसलिए आज हम इस लेख में बेहद सरल एवं सहज शब्दों में आपको बताएंगे कि यह DA औऱ PA क्या होता है? यह आपकी वेबसाइट के लिए क्यों जरूरी है! और कैसे आप अपनी वेबसाइट पर DA और PA बढ़ा सकते हैं।

ब्लॉग कैसे बनाये? उसके बारे में हमने पहेले से ही बताया हुआ है, लेकिन आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की DA & PA kya hai? or apne blog ki DA & PA kaise badhaye?

दोस्तों DA और PA से संबंधित पूरी जानकारी आसान शब्दों में पाने के लिए इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें! और मुझे पूरी उम्मीद है यह लेख आपके लिए और आपकी ब्लॉग, वेबसाइट दोनों के लिए बेहद उपयोगी होगा। तो आइए बिना देरी किए सर्वप्रथम हम जानते हैं कि यह -

DA क्या होता है? -

DA अर्थात Domain Authority! यदि हम सरल शब्दों में DA को समझे तो यह है 1 से 100  तक का score होता है जो निर्धारित करता है, की सर्च engine Result में आपकी साइट के Rank होने की कितनी संभावननाएँ (Possibilities) हैं। 

अर्थात आपकी साइट की Performance का अवलोकन (Overview) करने के लिए इस सर्च इंजन रैंकिंग Score को Moz कंपनी द्वारा विकसित किया गया है।

दोस्तों चूँकि यह 0 से 100 के बीच का स्कोर होता है, जिसका मतलब है कि जितना अधिक आप की वेबसाइट का Score होगा। उतनी अधिक आपकी वेबसाइट के सर्च इंजन में Rank होने के Chances होंगे।

इसे आप उदाहरण की मदद से बेहतर तरीके से समझ सकते हैं! मान लीजिए वर्तमान समय में Amazon साइट का DA 90 है, जबकि Snapdeal का D. A 62 है। 

इस स्तिथि में इसका सीधा फायदा Amazon साइट को है, क्योंकि जब भी आप किसी online प्रोडक्ट को सर्च इंजन पर Search करते हैं, तो ज्यादातर समय आपको Amazon के रिजल्ट सबसे पहले दिखाई देते हैं। जबकि वह  प्रोडक्ट Site पर उपलब्ध होता हैं।

ऐसा इसलिए क्योंकि Snapdeal की तुलना में Amazon का da अधिक है।

अब आपको पूरी तरह Clear हो चुका होगा कि जितनी अधिक आपकी साइट का DA होगा उतना अधिक आपकी वेबसाइट के ranking के chance होंगे।

दोस्तों गूगल द्वारा पहले Pagerank को पहले publicly Show किया जाता था। परंतु बाद में गूगल ने ऐसा करना बंद कर दिया। जिसे देखते हुए Moz कंपनी ने अपने स्वयं के PA एवं DA को विकसित किया जिसकी वजह से आज हम पता कर पाते हैं कि हमारी वेबसाइट का DA तथा PA क्या है?

चलिए अब हम जानते हैं कि यह PA क्या होता है?


PA अर्थात Page Authority यह  0 से लेकर 100 तक का Score होता है जिसे Moz द्वारा विकसित किया गया है। यह किसी Specific Web पेज के बारे में बताता है कि  इस पेज के सर्च इंजन पर Rank होने की कितनी संभावना है।

जितना अधिक PA होगा। उतना अधिक आपकी Ranking के Chances बढ़ जाते हैं।

दोस्तों यदि आप DA और PA के बीच फर्क को समझें तो जहां DA पूरे डोमेन तथा subdomain को Measure कर उसकी Strength के Score को बताता है।  वहीं PA सिर्फ किसी single Web Page की Ranking Strength को measure करता है।

तो यह जानना  कि DA और PA का अधिक होना आपकी साइट के लिए फायदेमंद है। तो आइए जानते हैं की कैसे आप अपनी साइट के DA को increase कर सकते हैं।

Site के DA को बढ़ाने के लिए जो सबसे पहला Step यह है, की जब भी आप अपनी वेबसाइट का Domain लें। वह सही Domain चुने। सही Domain से मेरा तात्पर्य है जिस Niche पर आप अपनी वेबसाइट में पोस्ट करने वाले हैं उससे रिलेटेड ही Domain लेने की कोशिश करे।

On Page Content को ऑप्टिमाइज करना। आपकी डोमेन अथॉरिटी को बढ़ाता है।

High क्वालिटी Content Create करें। ताकि बड़ी वेबसाइट से आपको Do Follow backlink प्राप्त हो सके। साइट के Interlinking Structure को Improve करें! अर्थात किसी टॉपिक से रिलेटेड अन्य आर्टिकल को अपनी

साइट से इंटरनल लिंक करना न भूलें।
वेबसाइट से Bed Url को Remove करें।
साइट को मोबाइल फ्रेंडली बनाएं।

दोस्तों यह थे कुछ मुख्य Tips जिनसे आप अपनी साइट की domain authority को increase कर सकते हैं।

DA increase करने के फायदे।


दोस्तों आपकी साइट के लिए DA का बेहतर होना सर्च इंजन रिजल्ट पेज में आपकी पोजीशन को improve करता है। 

यदि आपकी साइट की "डोमेन अथॉरिटी" अधिक होगी। तो आपकी साइट में अधिक ट्रैफिक आएगा जिससे comments तथा गेस्ट पोस्ट के ऑफर अधिक आएंगे। 

Site में DA का होना आपकी income को भी effect करता है, इससे आपकी Site में अनेक sponsored post आते हैं। 

Blog में एफिलिएट मार्केटिंग करने जा रहे हैं, तो यह आपकी Affiliate Sales  को बढ़ाने में बड़ी सहायता करता है। 

Page Authority कैसे बढ़ाएं। 


हाई क्वालिटी कंटेंट लिखें! जिससे आपकी साइट को अन्य हाई-क्वालिटी साइट से बैकलिंक मिल सके। दोस्तों यह एक ट्रिक है। आपकी Site में जरूर कुछ ऐसे ही Webpage होंगे। जिनका PA अधिक होगा। तो आप उसी पेज के Topic से रिलेटेड एक नया Content लिखें। तथा उसमें एक high PA वाले वेब पेज को लिंक करें।

PA को improve करने के लिए यह जरूरी है कि आपकी वेबसाइट में  सभी क्वालिटी कंटेंट होने चाहिए।

Pa increase  करने के लिए हमेशा सुनिश्चित करें कि site से हार्मफुल Links को रिमूव करें। आप गूगल सर्च Consol की सहायता से इन Links को रिमूव कर सकते हैं।

तो दोस्तों यह थे कुछ मुख्य टिप्स जिनसे आप अपनी साइट की Page Authority को इनक्रीस कर सकते हैं। 

यदि आप साइट की domain authority तथा page Authority को बढ़ाने के विषय पर अधिक गहराई से जानकारी पाना चाहते हैं! तो कमेंट में जरूर बताएं! हम उस विषय पर आपके लिये जल्द ही विस्तार-पूर्वक लेख लिखेंगे। 

तो दोस्तों आज के इस लेख में बस इतना ही आज आपने सीखा कि DA और PA क्या होता है? यह आपकी वेबसाइट के लिए क्यों महत्वपूर्ण है! तथा कैसे आप अपनी Site का DA और PA बढ़ा सकते हैं। उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए उपयोगी सिद्ध होगी। 

आपको DA & PA  के विषय पर यह लेख कैसा लगा कमेंट में अपने विचारों को जरूर बताएं! साथ ही यदि आपको यह  जानकारी पसंद आई तो सोशल मीडिया पर शेयर अवश्य करें।

Guest Post

Author Name: FutureTricks
Author Bio: FutureTricks - A Hindi Tech Blog! here you can learn about Ethical
Hacking, Social Media Tricks, Tech Hacks, Blogging, Make Money & More…
Site URL: https://www.futuretricks.org/
Email: admin@futuretricks.org