Apr 19, 2018

कैसे बनाये Twitter पर अपनी Personal Brand

कैसे बनाये Twitter पर अपनी Personal Brand

"अपनी personal brand बनाओ, अपनी personal brand बनाओ" ये कुछ शब्द हम सभी आज के दौर में सुनते ही रहते हैं. और इसी के साथ ये भी सुनते हैं कि ऐसा content post नहीं करो, कुछ inappropriate post नहीं करो क्यूंकि internet पर post किया हुआ सब कुछ forever रहता है. लेकिन सबसे बड़ी दिक्कत यहाँ ये आती है कि लोगों को theoretically तो पता है कि क्या करना है लेकिन practically कुछ भी नहीं पता है. चलिए अब बात करते हैं इस article के लिए मैं platform Twitter की.

♦️ क्या कोई 140 characters में personal brand बना सकता है ?
जी हाँ! Twitter पर!

अपने professional career में मैं ऐसी कई लोगों से मिला जिन्हे Twitter का सही उपयोग करना नहीं आता. ऐसे लोग या तो बहुत personal होकर over sharing कर लेते हैं या फिर बिलकुल ही inactive रहते हैं.

लेकिन दोस्तों सच ये है क़ि एक personal brand professional और personal के बीच एक balance बना कर ही बनायीं जा सकती है. और ये करना उतना भी मुश्किल नहीं है जितना लगता है.कैसे बनाये Twitter पर अपनी Personal Brand .

twitter marketing, personal brand, social marketing, branding

Steps to build a personal brand on Twitter

1. Twitter handle ध्यान से चुनें:

यह सबसे महत्वपूर्ण step है जो ये तय करेगी क़ि आपके followers आपको कितना seriously लेंगे.चाहे आप एक बहुत अच्छे chef हों, लेकिन @cooking4mylife जैसे handle सही नहीं होंगे. लेकिन हाँ, @RajTheChef जैसे handles आपके लिए एकदम ठीक रहेंगे.  ये न सिर्फ straightforward है, बल्कि लोगों को आसानी से याद भी रहेगा. हाँ, humor add करना Twitter पर अक्सर काम कर जाता है, लेकिन आप एक school boy जैसा handle तो नहीं choose कर सकते.

और आप चाहें, तो अपने blog या website url को भी Twitter handle बना सकते हैं. लेकिन अगर आपके पास अपना कोई blog नहीं है तो आप अपने नाम को भी अपना Twitter handle बना सकते हैं. ये सबसे आसान है. साथ ही ध्यान रखें क़ि Twitter भले ही आपको कभी भी अपना handle change करने की permission देता है but ऐसे ना करें. किसी भी brand को बनाने में वक़्त लगता है और एक बार लोग आपके किसी handle के habitual हो गए तो बार बार change करना मुश्किलें पैदा करेगा. एक strong personal brand वही है जो consistent है, recognizable है और जिसमे username शामिल है.

2. अपने profile में effective bio डालें:

हालाँकि ये बहुत obvious सी बात लगती है लेकिन यह एक चीज़ आपके Twitter profile को zero से hero बना सकती है.  चाहे आपको अच्छा लगे या बुरा, लेकिन आपके followers आपको आपके bio से judge करेंगे. आपका bio convincing होना चाहिए. चूँकि आपके पास सिर्फ 160 characters होते हैं तो ध्यान रहे कि हर character count हो. नीचे कुछ tips हैं जो आप उपयोग कर सकते हैं:

  • अपने employer का नाम mention करें.
  • जो भी आप करते हैं या जिसमे believe करते हैं, वो बताएं.
  • Humor शामिल करें.
  • Keywords शामिल करें.
  • Marketing ninja, lean entrepreneur जैसे bazzwords बिलकुल न डालें.
  • अपने blog, website या दूसरे important pages का link दे.

3. Brand Imaging ध्यान से चुनें: 

दोस्तों, ये ना भूलें कि आपका Twitter Profile आपका business card है. लोग आपको चेहरा देखना चाहते हैं न कि आपकी pet cat का. अब जब आपने अपना Profile effective बना लिया है, आपको अपनी Profile picture और cover picture से भी एक story दिखानी होगी.

Profile picture में आप अपनी कोई भी decent professional photo या कोई funny photo shoot style image का उपयोग कर सकते हैं. लेकिन अपनी Profile photo को time to time change करते रहें और group photo न लगाएं.

जब हम cover picture की बात करती हैं तो आप कोई promotional image भी चुन सकते हैं या simple भी. चलिए देखते हैं कैसे.

 Promotional: अगर आप कुछ promote करना चाहते हैं तो यह एक perfect place है. आप चाहें तो जिस company या blog के लिए काम कर रहे हैं, उसे promote कर सकते हैं. साथ ही, अगर आपको किसी event या launch में बुलाया गया है तो आप उस event को भी promote कर सकते हैं. Tweet करने पर आपके सारे followers उस launch के बारे में शायद ना जान पाएं लेकिन इसकी header picture रखने पर सभी लोग इस बारे में जान पाएंगे. आप easily online tools की मदद से Twitter header create कर सकते हैं.

 Simple: अगर आप simple रखना चाहते हैं तो अपनी कोई भी decent photo चुन लें. Branding हमेशा खुद को promote करने के लिए ही नहीं होती, इसलिए अगर आप शुरुआती दौर में हैं तो अपनी photo भी लगा सकते हैं.

4. Consistent रहें:

इसे workout की तरह ही समझिये. जितना regularly आप workout करेंगे, उतना ही जल्दी आपको result दिखना शुरू हो जायेंगे. Especially अगर आपने अभी शुरू ही किया है तो अपने fellow twitteratis से connect करें और उनके साथ time spend करें. एक दिन का भी gape न रखें. रोज़ post करें और दिन में कई बार post करें.

अगर आपके पास already decent followers हैं तो रोज़ 20-30 minutes  उनके साथ relationship बनाने में spend करें. आप चाहें तो scheduling tools  का भी उपयोग कर सकते हैं, इससे आपकी productivity बढ़ जाएगी. अगर आपका प्रोफाइल बहुत दिनों तक inactive रहा तो आपके followers आपको unfollow करने लग जायेंगे.

यह मेरा personal experience भी है. Twitter पर active रहना आपको काफी आगे तक ले जायेगा. एक routine बनायें और उसी के अनुसार काम करें.

5. Twitter chats में भाग लें:

Twitter chats में आपको ज़रूर भाग लेना चाहिए, ये ऐसी जगह है जहाँ आपको engage करने के लिए नए लोग मिलेंगे. जो लोग आपको Twitter chats में मिलते हैं, वो sincere और active होते हैं. ऐसे लोग बहुत चाहते हैं कि नए लोग इनकी community join करें और इसके लिए दूसरों से request भी करते हैं. इन chats को join करने से आपको बहुत फ़ायदा होगा लेकिन पहले वहां value add करें. #CustServ, #MediaChat, #Twittersmarter, आदि ऐसी कुछ chats हैं जो आपको ज़रूर join करनी चाहिए. अगर आप लगातार ऐसे value add करते रहेंगे तो आपको Twitter chat पर guest की तरह भी बुलाया जायेगा जिससे आपके Profile की credibility बढ़ेगी.

तो दोस्तों, ये थी मेरी छोटी सी guide. अगर आपके पास कुछ ऐसी tips हैं, तो हमसे ज़रूर share करें.

Apr 15, 2018

GST में शामिल केंद्र सरकार के कर

GST में शामिल केंद्र सरकार के कर

kendra sarkar me samil gst ka tax.Central Surcharge or cess,  Special Custom Duties,  Additional Customs Duties , Customs Duties, Additional Excise Duties, Central Excise Duties, Service Tax, Central Value added  Tax

GST लागू होने पर केंद्र के जिन अप्रत्यक्ष करो को हटाया गया हे वो इस प्रकार हे :-

केंद्र सरकार के अप्रत्यक्ष कर :-

1. केन्द्रीय वैल्यू एडेड टैक्स (Central Value added  Tax) यहाँ केंद्र सरकार द्वारा लगाया जाने वाला कर(tax) हे | इसलिए इसे सेंट्रल सेल्स टैक्स भी कहते हे जिसे हम CST के नाम से भी जानते हे | यह राज्यीय वेट से Adjust नहीं होता हे मतलब इसका रिफंड नहीं मिलता हे, कुछ विशेष प्रावधानों में ही इसका रिफंड मिलता हे | यह कर राज्य के बाहर क्रय विक्रय करने पर लगाया जाता हे |

2. सर्विस टैक्स (Service Tax) :- यहाँ सभी प्रकार की सेवाओ पर लगने वाला कर हे जो पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा लगाया जाता हे | इसकी आय पर भी केंद्र सरकार का पूर्ण अधिकार होता हे | चाहे सेवाए राज्य से दी जाये |

3. केन्द्रीय उत्पाद शुल्क (Central Excise Duties) यह भी केंद्र का कर जो पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा नियंत्रित किया जाता हे | यह सभी प्रकार की वस्तुओ के उत्पादन पर लगाया जाता हे | चाहे उनका विक्रय होना न हो यह उत्पादन के साथ ही अनिवार्य रूप से लागु हो जाता हे | यहाँ निर्माता और पहले और दुसरे स्तर के डीलर पर ही लागु होता हे | जिसे M1 L1 L2 की संज्ञा दी गई हे |

4. अतिरिक्त उत्पाद शुल्क ( Additional Excise Duties ) यहाँ कर विशेष वस्तु के उत्पादन पर लगाया जाता हे जो अतिआवश्यक नहीं और विलासिता की वस्तुओ पर लगाया जाता हे जेसे महगी कार और सिगरेट आदि

5. सीमा शुल्क (Customs Duties) यह कर देश के बाहर वस्तुओ और सेवाओ के आयात निर्यात पर लगाया जाता हे |

6. अतिरिक्त सीमा शुल्क ( Additional Customs Duties ) यह कर देश के बाहर वस्तु एवं सेवाओ का आयत निर्यात करने पर लगाया जाता हे यह वस्तुओ और सेवाओ के मूल्य को नियंत्रित रखने के लिए लगाया जाता हे।
7. विशेष सीमा शुल्क ( Special Custom Duties ) यह कर भी देश के बाहर आयात निर्यात करने पर लगाया जाता हे पर यह कर भारतीय वस्तुओ और सेवाओ को बढावा देने के लिए लगाया जाता हे |

8. केन्द्रीय सरचार्ज और सेस (Central Surcharge or cess) यह कर केंद्र सरकार अपने वितीय घाटे और विशेष कार्य के लिए और समाज में आमिर गरीब के अंतर को नियंत्रित रखने के लिए लगाती हे | तथा विलासिता की वस्तुओ पर लगाया जाता हे ताकि स्वदेशी वस्तु और भारतीय उद्धायोगो को प्रोत्साहन मिले | और सरकार के राजस्व में भी बढोतरी हो

ये सभी कर पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा सीधे तोर पर लगाये जाते हे | तथा समय समय पर इनमे बदलाव भी किया जाता हे | मतलब पूर्ण रूप से केंद्र सरकार दवारा नियंत्रित होते हे, इसकी आय पर भी केंद्र।

संबंधित पोस्ट 


सरकार का पूर्ण अधिकार होता हे किन्तु GST लागु होने पर इन सभी करो को स्थाई तोर पर समाप्त कर दिया गया हे | ये केवल केंद्र के करो का विवरण हे जो GST लागु होने पर हटाये गए हे। 

Apr 13, 2018

(Accounting) एकाउंटिंग क्या हे और क्यों की जाती हे ?

(Accounting) एकाउंटिंग क्या हे और क्यों की जाती हे ?

Accounting क्या होता है ? एकाउंटिंग यानि लेखांकन! व्यावसायिक खातो और व्यवसायिक लेनदेन का विधि अनुसार दस्तावेज रखने और खातो को लिखने की प्रक्रिया को ही एकाउंटिंग या लेखांकन कहते हे। यहाँ एक वाणिज्यिक विधि हे इसके अपने सिद्धांत हे, और यहाँ वितीय लेनदेनो को नियंत्रित करने के लिए की जाती हे। तथा यह सभी प्रकार  की  व्यवसाय के लिए लागु होती हे, किन्तु कुछ व्यापारो के लिए अनिवार्य रूप से लागु होती हे।

accounting kya hota hai, accounting kya hai in hindi, accounting in hindi, what is accounting definition in hindi, account kya hai in hindi, real account kya hai, financial accounting kya hai, what is account in hindi

इसकी अनिवार्यता व्यवसाय के आकार प्रकार पर निर्भर करती हे। वेसे व्यवाहरिक द्रष्टि से सभी को एकाउंटिंग करनी चाहिए ताकि उचित मूल्याकन किया जा सके, तथा किसी भी विवाद की स्थिति में व्यवसायिक प्रमाण के तोर पर इसका इस्तेमाल किया जा सके। वेसे एकाउंटिंग करने का प्रमुख उदेश्य लाभ और कर(Tax) का उचित निर्धारण किया जा सके।

लेखांकन विधि के मानक पूरी दुनिया में सामान हे ताकि पूरी दुनिया में व्यापार में सुगमता हो। इसलिए इस विधि को आधुनिक एकाउंटिंग या लेखांकन कहते हे। आधुनिक एकाउंटिंग में (Double Entry System) दोहरा लेखांकन पद्धति का इस्तेमाल किया जाता हे। इस पद्धति में दोनों खाते सामान रूप से जुड़े होते हे तथा दोनों खातो में अंको की संख्या भी सामान होती हे। इस पद्धति में दोनों खाते एक दुसरे के पूरक होते जेसे एक डेबिट (नामे) होता हे तो दूसरा क्रेडिट (जमा) होता हे। मतलब प्लस (+) माईनस (-) ऋणात्मक और धनात्मक के सिध्दांत पर कार्य करती हे।

इस पद्धति में वितीय वर्ष भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर (1 अप्रैल से 31 मार्च) सामान होता हे। (Double Entry System) के पहली बार पूर्ण सैद्धांतिक नियम फ़्रांसीसी नागरिक Luca de Pacioli, लुका डी पासोली ने सन 1445 में प्रस्तुत किये थे।

पद्धति तीन प्रमुख नियमो पर आधारित हे

  1. पाने वाला नामे (Debit) और देने वाला जमा (Credit)
  2. सभी आय, लाभ जमा (Credit) और सभी व्यय, हानि नामे (Debit)
  3. आने वाला नामे (Debit) और जाने वाला जमा (Credit)

इस पद्धति में तीन चरण होते हे 

  1. लेखांकन (Entry of Transaction)
  2. बही खाता लेखांकन (Bookkeeping) Maintain the Books and Recorded
  3. अंककेक्षण (Audit) खातो का परिक्षण

इस पद्धति में तीन प्रकार के खाते होते हे

1) (Personal Account) व्यक्तिगत खाते :-
⇨ जो खाते व्यक्ति के नाम को दर्शाते हे उसे Personal Account कहते हे। जेसे राम और श्याम आदि |

2) (Real Account) वास्तविक खाते :-
⇨ जो खाते किसी वस्तू या सम्पति को दर्शंते हे उसे Real Account कहते हे। जेसे कैश बैंक और कंप्यूटर आदि |

3) (Nominal Account) नाम मात्र के खाते :-
⇨ जो खाते लाभ, हानि और आय, व्यय को दर्शाते हे उसे Nominal Account कहते हे। जेसे सैलरी, वैजेस, रेंट, सेल्स, परचेस आदि।

वेसे लेखांकन की प्राचीन पद्धति भी हे इन का विवरण इस प्रकार हे

  • नगद लेनदेन पद्धति (Cash Transaction System) इस में नगद लेनदेन का ही लेखा किया जाता हे |
  • एकल लेखा पद्धति (Signal Entry System) इस में लेनदेन के एक पक्ष का लेखा किया जाता हे |
  • बही खाता पद्धति (Book Keeping System) इस में नगद उधार दोनों लेनदेनो का लेखा किया जाता था |

निष्कर्ष :-  लेकिन इन सब पद्धति के सिध्दांत व्यावसायिक लेनदेन के उचित मूल्यांकन नहीं किया जा सकता हे इसलिए (Double Entry System) का प्रचलन अधिक हुआ |  

Apr 5, 2018

जानिए Bitcoin Mining के बारे में ? बिटकॉइन मीनिंग हिंदी में।

जानिए Bitcoin Mining के बारे में ? बिटकॉइन मीनिंग हिंदी में।

Bitcoin कैसे बनते है? बिटकॉइन माइनिंग क्या होता है? और बिटकॉइन से सम्बंधित टेक्निकल बातें।

आज की दुनिया में bitcoin ने अपनी अलग ही पहचान बना ली है, लेकिन आज भी ऐसे बहुत कम लोग हैं जो actually जानते हैं कि bitcoin आखिर है क्या? देखा जाये तो आम जनता अभी भी bitcoin से बहुत परे है। ये situation कुछ ऐसी ही है, जैसे जब Albert Einstein ने "theory of relativity" को invent किया। सारा जहाँ समझ रहा था कि कुछ बड़ा हुआ है, लेकिन क्या, उसका सार कोई नहीं जानता।  Bitcoins भी ऐसा ही कुछ है। हाँ" ये पिछले कुछ सालों में बहुत Famous हो गया है, लेकिन अभी भी काफी लोग bitcoins के बारे में बहुत कम जानते हैं.

bitcoin mining, vitual currency, bitcoin mining in hindi

Bitcoins को समझने के लिए internet पर बहुत सी Guides Available हैं जहाँ से bitcoins के बारे में सारी जानकारी मिल जाएगी. इस article में हम बात करेंगे bitcoin mining के बारे में. यह एक ऐसा term है जो bitcoin के साथ हमेशा जुड़ा ही पाया जाता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में details में।

क्या है Bitcoin Mining?

Bitcoin Mining एक ऐसी process है जिसकी मदद से Bitcoin Transactions को Public Ledger में Update किया जाता है। जिस तरह हम हर कुछ समय के बाद Banks जाकर हमारी Passbooks में हमारे Transactions को Document/Print करते हैं, ठीक उसी तरह, Bitcoins के भी Transactions आप Online देख सकते हैं। और यही क्रिया bitcoin mining कहलाती है। इस Process में bitcoins बनाने वाली Blockchain से interaction किया जाता है। जो लोग इस computationally complicated activities में part करना चाहते हैं, उन्हें bitcoin tokens से reward किया जाता है.

Blockchain क्या है?

कोई भी Information जो पुराने Bitcoin Transaction से Associated है, उसे Block कहा जाता है. Virtual currency/ Cryptocurrency की दुनिया में किसी भी पुराने bitcoins Transactions के Ledger को blockchain कहा जाता है.  आसान शब्दो में कहूँ तो आपकी passbook जिसमे आपके पुराने सारे transactions का लेखा जोखा है, वह bloackchain कहलाएगी और इस passbook पर लिखा हुआ हर transaction block कहलायेगा. सीधी बात करू तो bloackchain एक ऐसी क्रिया है जिससे bitcoin network में Transactions Record किये जाते हैं।

ऐसे लोग जो Software Field में महारत हासिल कर चुके हैं, केवल वही इस Mining क्रिया यानि कि bitcoin Transactions Recording की क्रिया को कर सकते हैं। ये जो expert लोग होते हैं, जो कि mining करते हैं, उन्हें bitcoin की दुनिया में Miner कहा जाता है। और मैं ये आपको बता दूँ कि इस काम के बदले अच्छी खासी fees मिलती है, और साथ ही, इस process में बने bitcoins भी उन्ही miners को मिलते हैं।

Mining क्यों की जाती है?

चूँकि Bitcoin आजकल बहुत ही Iimportant हो गया है, इस Bitcoin nodes को एक fishing या छेड़छाड़ के बिना safe allowance देना बहुत ज़रूरी हो गया है, Mining का main motive यही है. Mining  की मदद से bitcoins system में launch किये जाते हैं. और जैसे कि मैंने आपको बताया, इस Mining की process के बदले उन्हें new bitcoins की subsidy भी प्राप्त होती है. आजकल तो market में कई Bitcoin Mining calculators भी उपलब्ध हैं जो आपसे कुछ जानकारी लेकर ये बता देते हैं कि कितने bitcoins इस क्रिया से generate होंगे।

Bitcoin Mining एक Decentralized तरीके से bitcoins को promote करता है, इसके अलावा ये लोगों को system की safety पर ध्यान देने के लिए भी encourage करता है. जिस तरह हम Mining की मदद से लोग Gold, Diamond, आदि ज़मीन से निकलते है, ठीक उसी तरह, Bitcoin भी mine किया जाता है, इसके लिए भी hardwork लगता है, और यह process भी बहुत धीरे धीरे होता है।

लेकिन दोस्तों, ऐसा नहीं है कि bitcoins प्राप्त करने का यह एकमात्र तरीका है. अगर आप bitcoins चाहते हैं तो आप इन्हे किसी product/service के बदले में, या currency exchange में या online games में भी पा सकते हैं।

क्या आप जानते हैं कि bitcoins इस तरह से design किये गए हैं कि एक बार में 21 million से ज्यादा bitcoins exist नहीं कर सकते, और इसीलिए Bitcoin Mining की process इतनी complicated है और एक specific  resource द्वारा ही process की जा सकती है.  अगर ये process इतनी complicated नहीं होगी तो ये संख्या जल्दी ही इस limit से कई आगे बढ़ जाएगी क्यूंकि अभी ही around 16 million bitcoins already उपयोग में हैं. किसी भी block की authenticity check  करनी हो तो proof of work का उपयोग किया जाता है. यह proof of work हर transaction में दूसरा Bitcoin node check करता है. इस checking process के लिए Bitcoin एक function का उपयोग करता है, जिसे Hashcash कहा जाता है।

POW/Proof of work क्या है?

दोस्तों, POW या Proof of work ये ensure करता है कि कोई भी miner cheat ना करे।

चूंकि Bitcoin network में कोई भी real world identity connect नहीं होती, miners को खुद के लिए ही new bitcoins generate करने से रोकने के लिए कोई process चाहिए होगी.  चलिए, आपको इसे एक example की मदद से समझाते हैं. समझिये आप कुछ लोगों के साथ हैं और आप सभी को एक math problem का answer guess करना है और कोई भी नहीं जाता कि कौन सबसे पहले सही जवाब देगा. जो भी सबसे पहले सही जवाब दे देगा, उसे reward(इनाम) मिल जायेगा, लेकिन बाकि दुसरे miners को इस transactional record को approve करना पड़ेगा। अगर बाकि miners को ये लगता है कि कोई miner fraud transaction कर रहा है, तो वे लोग इसे accept करने से मना कर सकता हैं।

यही वजह है कि new block creation की process energy sensitive होती है ताकि हर new block create होते वक़्त कुछ cost involve हो. इस तरीके से उन miners को रोका जाता है जो बहुत सारे fraud blocks ये सोच कर create कर देते हैं कि शायद वो accept हो जाएँ और reward पा लें।

▶️ Virtual Currency- आभासी मुद्रा के बारे में अधिक जानकारी के लिए इन्हे भी पढ़े !

Wrapping it up!

तो दोस्तों, आशा है कि इस article ने आपकी सभी queries को solve किया. अगर फिर भी आपको कोई doubts हो, तो comments में ज़रूर share करें।

Apr 4, 2018

Best Online Photo Editors Website

Best Online Photo Editors Website

आपको Online Photo Editing के बारे में तो पता ही होगा। आपने अपने कंप्यूटर में बहुत से software भी चलाये होंगे। आप बिना किसी software के Online Photo edit /design कर सकते है। आपने ने Photoshop जैसे software का नाम तो सुना ही होगा या उसे चलाया भी होगा ठीक वैसे ही आप online photo/image को design कर सकते है बड़ी आसानी से।  इस पोस्ट के माध्यम से best online photo editing website के बारे में बताऊंगा। चलिए देखते है वो Best Photo Editing Website कोन सी है।
best photo editors



Online photo/image editors को किस काम के लिए use कर सकते है  । 

आप अगर online काम करते है जैसे YouTube चलाते है या फिर Blog चलते है तो आप के लिए सबसे best option रहेगा की आप Online Photo editors को use  करें। क्या होता है जैसा की आप अगर अपने घर से या अपने computer के पास न हो। और आपको अपने blog या youtubeमें एक important update /post डालनी हो और आपके पास computer में photo editing वाली software नही है तो आपके सामने एक option है online photo editor का।  
  • YouTube video के लिए Thumbnail image । 
  • Business card design कर सकते है। 
  • Blog Post के लिए image |
  • Passport Size Photo बनाने के लिए। 
  • Greeting Card बना सकते है 
  • Poster image 
  • Facebook के लिए photo, cover photo 
  • Banner image 
  • Infographics 
  • Collages photos  
  • Any type of effects creation on photo




Best Online Photo Editors Website

वैसे तो Internet में बहुत सी photo editing की वेबसाइट है। उसमे से हमने Top 10 photo editing website के नाम ही बता रहे है। 

1. Canva

Canva.  एक नि:शुल्क Graphic Design Tools की  वेबसाइट है। canva का use बहुत ही सरल है जिसे drag न drop का इस्तेमाल करके आप बहुत ही high performance image, graphic बना सकते है। आज कल canva का use बहुत ही जायदा मात्रा में होता है क्योकि ये free n paid दोनों में होता है।   
canva graphic tools, canva online, design tools online

canva को use करने के लिए आपको कोई स्पेशल डिज़ाइन की जरुरत नहीं होती। यदि आप एक ब्लॉगर या ऑनलाइन मार्केटिंग के कामो से जुड़े है तो Canva Graphic tools अपने लिए बिलकुल परफेक्ट है। 

2. pixlr

Pixlr Editor. ये एक बहुत ही powerful photo editor है।  ये दिखने में बिलकुल Photoshop की तरह है। इसमें बहुत से effect के package available  है।  जिसको photoshop चलना अत है वो इसे बहुत हीअच्छे तरह चला सकता है।
pixlr editor


3. Fotor

Fotor Editor.  इसको use करना बहुत ही आसान है इसे User Friendly बनाया गया है। इसे  use करने के  expert होना जरुरी नही है। ये भी बहुत अच्छा editor है।
fotor editor


4. FotoJet

FotoJet Editor. एक ऐसा site है जहाँ से आप free में professional photo editing online कर सकते हो। इसमें बहुत से effects दिए गए है जिसकी मदद से आप professional image edits कर पाएंगे
fotojet editor


5.  Picmonkey

Picmonkey Editor. ये भी एक बहुत ही best editor साइट है इसमें आप तरह-तरह के design और effect दाल सकते है free में। इस interface बहुत ही खूबसूरत है और इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है।
picmonkey editor


6. Fun Photo Box

Fun photo box editor. ये भी एक beautiful online photo editing or Gif  animation create कर सकते है पर इस tool में थोड़ा टाइम लगता है। depend करता है आपकी इन्टरनेट की speed पर।
funphotobox editor


7. IpIccy

Ipiccy editor. इसके interface में function थोड़े कम है लेकिन यह भी user friendly  है। यह lite online editor है और fast काम करता है।
ipiccy editor


8.  Free online photo editor

Freeonlinephotoeditor.com जैसा की इसका नाम है free online photo editor है। इसके ख़ास बात यह है की जो भी हम effect apply करते है तो कुछ scanned time लगता है ये depend करता है इंटनेट की speed पर। वेसे तो मेरे हिसाब से सबसे ज्यादा इसी को इस्तेमाल करते है इसमें फोटो की size compressed होता है।
free online photo editor

  

9.  Befunky

befunky editor. इसके द्वारा graphic design, image edits, Creating Collages photo जैसे बहुत सेeffect वाले image बना  सकते है। 
befunky editor

10. Photomania 

photomania editor. इसको भी इस्तेमाल करना बहुत ही सरल है। इसमें बहुत से frame , effect available है।
photo mania editor

11. Photocat 

Photocat editor. इसके द्वारा graphic design, image edits, Creating Collages photo जैसे बहुत सेeffect वाले image बना  सकते है। 
photocat editor


जैसा की आपने देखा और पढ़ा इस पोस्ट में मैंने 10 best online photo editings की website आपको बताया है । इन website में लगभग सभी tools एक जैसे है और कुछ ज्यादा ही functional है, कुछ advance भी है। इन वेबसाइट के जरिये से आप बहुत ही professional image बना सकते है।


उम्मीद है आपको ये पोस्ट अच्छा लगा। इस पोस्ट को ज्यादा-ज्यादा share करे। और इस पोस्ट से related कोई प्रसन हो तो निचे कमेंट करे। वेबसाइट में visit करने के लिए आपका बहुत धन्यवाद। और हमने जुड़े रहने के लिए ईमेल द्वारा subscribe करे।

Apr 1, 2018

Virtual Currency  आभासी मुद्रा के प्रकार :- भाग 3

Virtual Currency आभासी मुद्रा के प्रकार :- भाग 3

virtual currency in hindi part 3, virtual currency, virtual currency in hindi

इससे पहले भाग(Virtual Currency आभासी मुद्रा के प्रकार :- भाग 2) में हमने इसके प्रकार को शार्ट पैराग्राफ में थोड़ी जानकारी के साथ बताया और इस भाग-3 में वर्चुअल करेंसी के प्रकार के कुछ अन्य करेंसी के बारे में बता रहे है।और हो सकता है की इस विषय के और भी भाग बन सकते है। क्योकि वर्चुअल करेंसी का क्षेत्र बहुत बड़ा है तो विषय भी बढ़ते रहेगा। और इसके भाग आते रहेंगे।

तीसरे भाग में शेष अन्य Virtual Currency का विवरण इस प्रकार हे :-

9) Monero मोनेरो (XMR) यह (Bytecoin) बाइटकॉइन के आधार पर बना हे, इसका पहले का नाम (Bitmonero) बिटमोनेरो था | इसे सन अप्रैल 2014 में लाँच किया गया था इसके अविष्कारक का नाम Nicolas van Saberhagen, निकोलस वैन साबरहेगन हे | यह भी Open Source System based विकेन्द्रित (Decentralized) मुद्रा हे | जिसे में सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाता हे, ये Windows, Linux, Ios, Android, Mac, ARM, BSD. सभी Oprating System पर काम करता हे | इस में CryptoNight Algorithm का इस्तेमाल किया जाता हे | इसमें Transacation की सुरक्षा के लिए CryptoNote Protocol का इस्तेमाल किया जाता हे | इसमें Transaction Verify करने के लिए Proof of Work का इस्तेमाल किया जाता हे |

10) Byte Coin बाइटकॉइन (BCN) इसे जुलाई 2012 में लांच किया गया था | इसके अविष्कारक का नाम PACIFIC SKYLINE, JUAREZ, पैसिफ़िक स्केललाइन, जुआरेज हे | इस की प्रोग्रामिंग C++(14) भाषा में की गई हे, और ये Windows, Linux, Mac, Free BSD, Operating System पर काम करता हे | इसमें CryptoNote Algorithm का इस्तेमाल किया जाता हे | इसकी Block Chain में Poof of Work System का उपयोग किया जाता हे | CryptoNote Algorithm पर आधारित यह पहली (Cryptocurrency) क्रिप्टो करेंसी हे |

11) Swift coin  स्विफ्टकॉइन (STC) इसे सन 2011 में लॉन्च किया गया था, सन नवम्बर 2014 में इसका पेटेंट कर आधिकारिक तोर पर लाँच किया गया | इसके अविष्कारक का नाम Daniel Bruno, डैनियल ब्रूनो हे | इसकी Block Chain अर्थात Transaction प्रकिया Proof of Work पर काम करती हे | इसमें SHA-256 Algorithm का उपयोग किया जाता हे | Swift Coin का नाम Swift बैंक नेटवर्क से लिया गया हे, लेकिन यह इस से जुड़ा हुआ नहीं हे | इसमें पेसे जमा करने के लिए इसकी मीनिंग (Mining) नहीं की जा सकती, Swift Coin को सॉलिड बांड के ब्याज और प्रिसिपल रिडेम्पशन के आधार पर उत्पादन किया जाता हे | स्विफ्टकॉइन  और सॉलिडबांड दोनों पंजीकृत हे, इसकी Block Chain सार्वजनिक नहीं हे | और ये Open Source Crypto Currancy भी नहीं हे केवल Cryptocurrency हे |

12) Name Coin नेमकॉइन (NMC) इसे सन अप्रैल 2011 में लॉन्च किया गया था | इसके अविष्कारक का नाम Vincent Durham, विन्सेन्ट डरहम हे | इसमें भी SHA-256D Algorithm का इस्तेमाल किया जाता हे इसकी Block Chain भी Poof of Work सिस्टम पर काम करती हे | इसकी प्रोग्रामिंग C++(13) भाषा में की गई हे | यह वैकल्पिक विकेन्द्रित डीएनएस क्रिप्टो मुद्रा (Decentralized Crypto Currency) के रूप में कार्य करती हे | यह भी Peer to Peer नेटवर्क पर काम करने वाली Open Source Crypto Currency हे | इस करेंसी में लेनदेन अपरिवर्तनीय होता हे मतलब एक बार transaction हो जाने के बाद उसमे कोई बदलाव नहीं किया सकता हे इसलिए User का Confirmation होने के बाद ही transaction किया जाता हे |

निष्कर्ष:- वेसे तो Money मार्केट में 48 (Cryptocurrency) क्रिप्टोकरेंसी मोजूद हे, लेकिन लेख में 12 महत्वपूर्ण और प्रचलित (Cryptocurrency) क्रिप्टोकरेंसी का उल्लेख किया गया हे |

सम्बंधित पोस्ट :-
उम्मीद है आपको हमारी दी गयी जानकारी से  कुछ सिखने मिली। आप अपने दोस्तों के साथ भी इस जानकारी को शेयर करे। और इससे सम्बंधित जानकारी के लिए, ब्लॉग में रेगुलर आते रहिये। कोई सुझाव या जानकारी के लिए कमेंट करे।