Aug 28, 2018

छोटे व्यापारी कैसे उठा सकते हैं Flexi ऋण योजना का लाभ




हर व्यवसायी चाहता है कि वो अपना बिजनेस बढ़ाएं। मगर बिजनेस को बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी होता है पैसा। पैसे की जरूरतों को पूरा करने के लिए व्यापारी बिजनेस लोन का सहारा लेते हैं। बड़े व्यवसायियों को तो बहुत आराम से बिजनेस लोन मिल जाता है। मगर छोटे व्यवसायियों को स्माल बिजनेस लोन प्राप्त करने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। अगर आप एक छोटे व्यवसायी हैं और बिजनेस लोन की तलाश में हैं, तो Flexi ऋण योजना काफी मददगार साबित होती है।

Flexi ऋण योजना क्या है?
फ्लेक्सी बिजनेस लोन प्लान फ्लोटिंग और फिक्स्ड प्लान का मिला जुला रूप है। इस प्लान को हाइब्रिड लोन प्लान भी कहा जाता है। इसमें सबसे खास बात यह है कि ग्राहक अपनी जरूरत अनुसार लोन अवधि के बीच में अपना प्लान फिक्स्ड या फ्लोटिंग में बदलवा सकता है। इस प्लान के तहत लोन लेने पर शुरुआत में इंटरेस्ट फिक्स्ड रेट से लगाया जाता हैजिसके बाद यह फ्लोटिंग हो जाता है।

Flexi ऋण योजना क्यों है फायदेमंद-
एक फ्लेक्सी लोन लेना हमेशा ही फायदेमंद होता है, क्योंकि यह लोन चुकाने में उधारकर्ताओं को छूट देता है। फलेक्सी बिजनेस लोन का सबसे बड़ा फायदा यह है, कि इसमें उधारकर्ता किसी भी तरह की विशेष भुगतान अनुसूची द्वारा सीमित नहीं है और अपनी आवश्यकता अनुसार अपना लोन चुका सकता है।

आइए आपको फ्लेक्सी लोन के कुछ और फायदें बताते हैं-
  1. कार्यशील पूंजी में बढ़ोत्तरी
  2. अधिक क्षमता के व्यवसाय केंद्र भाड़े पे लेना
  3. आपके दफ्तर में सुधार लाना
  4. यन्त्र सामग्री खरीदना, भाड़े पे लेना या उनमे सुधर लाना
  5. नयी तकनीक लाना या तकनीकी सुधर करना
  6. व्यावसायिक वस्तुसूचि में बढ़ौती करना
  7. मियादी मजदूर नियुक्त करना
  8. बड़ी मांग के लिए कच्ची सामग्री खरीदना
  9. नए शहर में विस्तार करना
  10. व्यावसायिक प्रक्रियाओं मे वृद्धि करना और बड़ी परियोजनाएं हाथ में लेकर अपने बिजनेस को और आगे बढ़ाना
  11. समय से पहले अपने लोन के भुगतान से अपना सिबिल स्कोर बढ़ाना।
Flexi बिजनेस लोन कैसे है बाकी लोन से अलग-

स्माल बिजनेस लोन लेने के वैसे तो कई विकल्प उपलब्ध हैं, लेकिन इन सभी विकल्पों में से सबसे बेहतर विकल्प होता है- Flexi बिजनेस लोन। Flexi ऋण योजना के तहत बिजनेस लोन प्राप्त करना व्यवसायियों के लिए काफी सुविधाजनक होता है। Flexi ऋण योजना सबसे अच्छा फायदा है कि आप इसे अपनी सुविधानुसार आसान किस्तों में चुका सकते हैं। इसमें इस सुविधा ये भी होती है कि कुछ NBFC प्री-पेमेंट पर कोई एक्स्ट्रा चार्जेज नहीं लेती हैं। जिसकी वजह से आपका लोन चुकाना काफी आसान हो जाता है। चाहे कार्यशील पूँजी हो, छोटा उपकरण खरीदना हो, या फिर कोई अन्य बिजनेस विस्तार की योजना हो Flexi बिजनेस लोन इन सभी में मददगार होता है।

कहां से लें Flexi बिजनेस लोन-

ये तो थे Flexi बिजनेस लोन के फायदें। अब इन फायदों का लाभ उठाने के लिए सबसे बड़ा सवाल उठता है, कि आखिर Flexi बिजनेस लोन ले कहां से? बिजनेस लोन के लिए आप विभिन्न बैंकों में आवेदन कर सकते हैं। हालांकि बैंको की लोन देने की प्रोसेस थोड़ी जटिल होती है, लेकिन फिर भी काफी अधिक संख्या में लोग अभी भी बिजनेस लोन के लिए बैंकों पर ही निर्भर रहते हैं। मगर बहुत कम बैंक हैं, जो आपको फ्लेक्सी बिजनेस लोन की सुविधा प्रदान कर सकते हैं।

ऐसे में बैंकों की इस जटिल प्रोसेस से बचने के लिए आप एनबीएफसी का सहारा ले सकते हैं। ऐसी बहुत सी एनबीएफसी हैं, जो व्यवसायियों के लिए Flexi ऋण योजना चलाती हैं। एनबीएफसी बहुत कम पेपर वर्क में आपको आसानी से 5 लाख रुपये तक का Flexi बिजनेस लोन प्रदान कर देती हैं। सामान्यतया NBFC से बिजनेस लोन लेने में आपको 3 से 5 दिनों के भीतर ही लोन राशि मिल जाती है। इसके साथ ही NBFC स्माल बिजनेस लोन भी आपको आसानी से प्रदान कर देते हैं।

Flexi बिज़नेस लोन लेने की योग्यता-

वैसे तो अलग-अलग कंपनी या बैंक के लिए अलग-अलग योग्यता मापदंड होता है, लेकिन फिर भी जो जरूरी मापदंड हैं, वो आपको बता रहे हैं।
  • पिछले 12 महीनो मे कम से कम 10 लाख रुपये का बिज़नेस किया हो
  • पिछले साल का ITR 2.5 लाख से ज़्यादा हो
  • घर या बिज़नेस की जगह अपनी हो
  • घर और बिज़नेस अलग जगहों पर हो
  • कम से कम 2 साल से बिज़नेस कर रहे हो
स्माल बिजनेस लोन के लिए ज़रूरी काग़ज़ात-

स्माल बिजनेस लोन के लिए भी अलग-अलग कंपनियों की अलग-अलग दस्तावेजों की सूची होती है। लेकिन हम आपको सबसे जरूरी दस्तावेजों की सूची बता रहे हैं
  • पैन कार्ड
  • पिछले 12 महीनों का बैंक विवरण
  • पिछले 2-3 साल का ITR
  • बिज़नेस स्थान का पता
  • घर के पते का प्रमाण
सभी जानकारियां विस्तार से होनी चाहिए, जिससे की बैंक को बिजनेस लोन देने में सोचना ना पड़े। आपकी जानकारी बैंक को इस बात का आश्वासन जरूर दे सकें कि आप बैंक को लोन समय से चुका सकते हैं। वैसे तो ये जरूरी दस्तावेजों की सूची NBFC के लिए है। बैंकों के लिए जरूरी दस्तावेजों की सूची काफी लंबी होती है, जिसे पूरा कर पाना लगभग असंभव हो जाता है। ऐसे में NBFC से आसानी से Flexi ऋण योजना का लाभ उठाया जा सकता है।

ब्याज की दरें-

बिजनेस लोन लेने से पहले उसकी ब्याज की दरें जरूर जांच लें। क्योंकि कई बार ब्याज की दरें काफी अधिक होती हैं, जिसके कारण बिजनेस लोन चुका पाना व्यवसायियों के लिए मुश्किल हो जाता है। अलग-अलग बैंकों और NBFC की ब्याज दरें अलग-अलग होती हैं। ऐसे में व्यवसायी को स्माल बिजनेस लोन लेने से पहले ब्याज दरों का जानना आवश्यक होता है। वैसे तो ज्यादातर बैंकों या NBFC की ब्याज की दरें चक्रवर्ती दरें होती हैं। मगर कई बैंकों या NBFC में Flexi ऋण योजना के लिए अलग ब्याज दरें होती हैं, तो व्यवसायियों को एक बार यह भी जांचना जरूरी होता है। ऐसा ना हो कि बिजनेस लोन लेने के बाद उन्हें पछताना पड़े।

SHARE THIS

Author:

0 comments: