Jan 14, 2017

सफलता पाने के सबसे जरुरी बातें |

The most important things for success in our life

जीवन में सफलता पाने के लिए विशेष बातें। 

सफलता- परिश्र्म और मेहनत से मिलती है। ऐसी नहीं है की आपको इसका कोई सूत्र(formula) मिल जाए और आपको सफलता मिल जाये। अपने जीवन में सफलता पाने के लिए कुछ विशेष गुण अपनाने पड़ते हैं। जिसके अनुसार आपको सफलता मिल सकती है। सफलता पाने के लिए इन गुणों को अपनाना भी आवश्यक है जो इस प्रकार हैं :-




  • वादा (commitment):- वादे का मतलब एक बार जो आपने वादा कर दिया फिर उससे पीछे न हटना, चाहे कितनी मुसीबतें आएं लेकिन अपने वादे पर कायम रहना, इसी को असल में वादा कहते है। 

  • सूचनात्मकता (Informativity):- सफलता को पाने के लिए व्यक्ति का दिमाग सूचनात्मक भी होना चाहिए क्योकि कुछ नया  सोचने के लिए उसके पास इतनी बुद्धि होनी चाहिए की वह कुछ नया सोचे, नई संभावनाओ की खोज करे जैसे नया बाजार, नया उत्पाद इत्यादि। इसमें समय, पैसा, प्रयत्न और श्रम इत्यादि भी लगता है।  

  • नीति (Ethics):- वह नियम जिसके द्वारा किसी व्यक्ति के आचरण या किसी व्यवसाय की सदस्यता को प्रस्तुत क्या जाये उसे नीति कहते है। 

  • मूल्य (Value):- वो नियम जिसके अनुसार हम सही-गलत, अच्छी या बुरी चीजों का विश्लेषण करते हैं उन्हें कहते है। 

  • सकारात्मक सोच की शक्ति (The Power of Positive Attitude):- इस विषय को समझने के लिए  हमें एक उद्धरण लेनी पड़ेगी। दो मित्र राम और श्याम नौकरी के लिए  आवेदन पत्र देते है और दोनों को इंटरव्यू के लिए कॉल भी आती है। राम हमेशा सकारात्मक सोचता था  लेकिन श्याम नकारात्मक सोचता था। उसने इंटरव्यू से पहले से ही यह नकारात्मक सोच बना ली थी की उसको नौकरी नही मिलेगी इसलिए उसने उतने उत्साहित मन सेतैयारी नही की , न ही समय पर पहुँच पाया क्योंकि नकारात्मक सोच मनुष्य के विश्वास को कमजोर बना देती है। श्याम ने न तो तयारी ठीक से की, न ही वह प्रश्न पत्र को सही से हल कर पाया। लेकिन राम ने पहले से ही सकारात्मक सोच बना ली थी की यह नौकरी तो उसको ही मिलेगी। इस उम्मीद के साथ उसने अपनी तैयारी की और इस सकारात्मक सोच ने उसके विश्वास को ओर बढ़ा दिया। इसलिए वह नौकरी राम को ही मिली। राम और श्याम दोनों की योग्यता बराबर थी, लेकिन दोनों की सोच में जमीन-आसमान का फर्क था जो की एक नौकरी के उद्धरण से आंका गया।



  • स्वयं-जागरूकता (Self-Awareness):- हमें सबसे पहले अपनी ओर ध्यान को केंद्रित करना चाहिए जिससे हम अपने वर्तमान व्यवहार, और अपने आंतरिक आदर्शों का मूल्यांकन कर सकते है। इसलिए जिससे की सबसे पहले स्वयं को जागरूक कर सकें। यदि हम स्वयं को जागरूक कर सकते है तो दूसरों को भी सकते है। लेकिन सबसे पहले अपने आपको इस लायक बनाना पड़ेगा। 

  • कैरियर योजना या रोज़गार योजना (Career Planning or Employability Planning):- हर एक मनुष्य का यह सपना है की वह जीवन में बड़ा आदमी बने लेकिन बड़ा आदमी बनने के लिए उसे एक कैरियर योजना बनानी पड़ेगी और उस योजना के अनुसार उसे परिश्रम करना पड़ेगा तब जाकर वह उस पद के लायक बनेगा जो वह बनना चाहता है। 

  • लक्ष्य निर्धारण (Goal Setting):- लक्ष्य को निर्धारित करने के लिए आप लक्ष्य को छोटे-छोटे भागों में विभाजित करें जिससे की आपको लक्ष्य के प्राप्ति में आसानी हो और तैयारी भी आप अच्छे से कर सकें। लक्ष्य की पप्राप्ति के लिए जितने छोटे-छोटे लक्ष्य होंगे उनको पाने में उतनी ही आसानी होगी और उतनी ही जल्दी आप अपने मुख्य लक्ष्य को पा सकेंगे। लक्ष्य को पाने के लिए आप प्रतियोगिता में भी बंधे रहेंगे। 





उम्मीद है ये Motivation Article आपको अच्छा लगा होगा। इसे अपने साथियों से ज्यादा से ज्यादा share जरूर करें। और नए पोस्ट को डायरेक्ट अपने ईमेल में पाने के लिए Subscribe करें। 

SHARE THIS

Author:

हेल्लो दोस्तों मैं हारून, इस ब्लॉग Hindiarticles.com का founder(Owner) हूँ. आप सभी के सहयोग से हमारा यह ब्लॉग, हिन्दी और हिंगलिश भाषा में blogging, digital marketing, internet की जानकारी, क्या-कैसे, computer से सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करतें है| 

0 comments: